सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण और ट्विटर इंडिया के खिलाफ अवमानना कार्यवाही की शुरू

नई दिल्ली: सर्वोच्च न्यायालय ने मंगलवार को न्यायपालिका के खिलाफ कथित अपमानजनक ट्वीट के लिए कार्यकर्ता-वकील प्रशांत भूषण के खिलाफ अवमानना ​​की कार्यवाही शुरू की. इसी के साथ शीर्ष अदालत ने ट्विटर इंडिया के खिलाफ अवमानना ​​कार्यवाही भी शुरू की है, जिस पर भूषण ने कुछ कथित अपमानजनक टिप्पणियां पोस्ट की थीं.

बुधवार को न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ इस मामले की सुनवाई करेगी. बेंच पर अन्य जज जस्टिस बी.आर. गवई और कृष्ण मुरारी. न्यायालय द्वारा अवमानना ​​मामले का खुलासा नहीं किया गया है. बता दें कि प्रशांत भूषण विविध मुद्दों सर्वोच्च न्यायालय पर हमला करते रहे है. भीमा कोरेगांव से लेकर अयोध्या मामलों पर अप्पतिजनक ट्वीट किया है. कोरोना वायरस के दौरान लगाए गए लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों की वापसी को लेकर भूषण ने सुप्रीम कोर्ट की तीखी आलोचना की थी.

पिछले दिनों उन्होंने सीजेआई बोबडे पर ट्वीट कर आरोप लगाते कहा था कि, ‘ CJI राजभवन नागपुर में एक भाजपा नेता से संबंधित 50 लाख की मोटरसाइकिल की सवारी करता है, बिना मास्क या हेलमेट के, जब वह सुप्रीम कोर्ट को लॉकडाउन मोड में रखता है तो नागरिकों को न्याय तक पहुँचने के उनके मौलिक अधिकार से वंचित कर देता है!.’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper