सुप्रीम कोर्ट से हार्दिक पटेल को मिली राहत, गिरफ्तारी पर रोक

अहमदाबाद: पिछले कई दिनों से लापता कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है| सुप्रीम कोर्ट ने हार्दिक पटेल की गिरफ्तारी पर 6 मार्च तक रोक लगाते हुए गुजरात सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है| सुप्रीम कोर्ट ने गुजरात सरकार के फटकार लगाते हुए कहा कि 2015 में केस दर्ज किया गया और इस मामले में जांच अब भी पेंडिंग है| सरकार इस केस को पांच सालों तक दबाए नहीं रख सकती|

गौरतलब है 25 अगस्त 2015 को अहमदाबाद के जीएमडीसी मैदान में हुई पाटीदार आरक्षण समर्थक रैली के बाद हुए राज्यव्यापी तोड़फोड़ और हिंसा को लेकर यहां क्राइम ब्रांच ने अक्टूबर 2015 में दर्ज किया था। इसमें कई सरकारी बसें, पुलिस चौकियां और अन्य सरकारी संपत्ति में आगजनी की गई थी तथा इस दौरान एक पुलिसकर्मी समेत लगभग दर्जन भर लोग मारे गए थे जिनमें कई पुलिस फायरिंग के चलते मरे थे। पुलिस ने आरोप पत्र में हार्दिक और उनके सहयोगियों पर चुनी हुई सरकार को गिराने के लिए हिंसा फैलाने का षडयंत्र करने का आरोप लगाया था।

कुछ दिन पहले हार्दिक पटेल की पत्नी किंजल पटेल ने कहा कि उनके पति 18 जनवरी से लापता हैं और उन्हें कुछ भी होता है तो इसका जिम्मेदार पुलिस प्रशासन होगा| बीते दिन किंजल पटेल ने ट्वीटर पर लिखा “गुजरात की तानाशाही, हिटलरवादी भाजपा सरकार ने किसान और नौजवानों के आंदोलनकारी हार्दिक पटेल पर तीस से अधिक झूठे मुकदमे दर्ज किए हैं। जिसके विरोध में दो मार्च को गुजरात के विभिन्न तहसीलों में पटेल पर लगे झूठे मुकदमे वापिस लेने की माँग के साथ तहसीलदारों को आवेदन किया जाएगा|”

इससे पहले 11 फरवरी को हार्दिक पटेल ने एक ट्वीट कर कहा था कि ‘चार साल पहले गुजरात पुलिस ने मुझ पर झूठा मूकदमा दर्ज किया था| लोकसभा चुनाव के वक्त मुझ पर लगे मुकदमे की सूची मैंने अहमदाबाद पुलिस कमिशनर से मांगी थी, लेकिन यह मुकदमा सूची में नहीं था| पंद्रह दिन पहले अचानक पुलिस मेरे घर पर मुझे हिरासत में लेने आई थी, लेकिन मैं घर पर नहीं था| दूसरे ट्वीटर में हार्दिक पटेल ने लिखा कि ‘इस झूठे मूकदमे में मेरी अग्रिम जमानत की प्रकिया हाईकोर्ट में चल रही हैं| मेरे कई सारे गैर जमानती वारंट भी निकाले गए हैं| गुजरात में पंचायती चुनाव आ रहे है, इसीलिए बीजेपी मुझे जेल में बंद करना चाहती हैं. मैं बीजेपी के खिलाफ जनता की लड़ाई लड़ता रहूंगा| जल्द मिलेंगे| जय हिंद|’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper