सोशल मीडिया पर वायरल हुआ पुलिसवाले का दूध का पैकेट चुराते CCTV वीडियो

पुलिस का काम लोगों के समानों का सुरक्षा मुहैया कराना होता लेकिन पुलिस ही जब समानों की चोरी करने लगे तो उन पर सवाल उठाना लाजमी हो जाता है। पुलिसकर्मी ऐसी ही कुछ हरकते करते है नजर आते है जो बेहद शर्मनाक होता है। ऐसा ही एक वीडियो सामने आया है जिसमें एक पुलिसकर्मी दुध का पैकेट चुराते नजर आ रहा है। यह वीडियो यूपी के नोएडा का बताया जा रहा है।

दुध की चोरी करता दिखता है पुलिसवाला: दरअसल इस वीडियो में दिख रहा है कि उत्तर प्रदेश के नोएडा में पीसीआर से सवार पुलिसकर्मी एक दुकान के सामने सड़क पर पड़े दुध के कैरेट के पास आकर रुकते है। इसके बाद पीसीआर से एक पुलिसवाला निकल कर आता है और दुध के कैरेट से दो पैकेट दुध निकालकर अपने साथी को दे देता है। यह घटना पास में लगे सीसीटीवी में कैद हो जाती है। यानि जिस सीसीटीवी से पुलिस अपराधियों को पकड़ने की कोशिश करती है, उसी सीसीटीवी कैमरे ने उनकी चोरी भी पकड़ ली।

ANI UP

@ANINewsUP

Policeman seen stealing packets of milk in Noida, Uttar Pradesh, yesterday. (Source: CCTV footage)

Embedded video

2,537 people are talking about this

पुलिस की तरफ से कोई भी बयान जारी नहीं हुआ है: बता दें कि यह घटना सुबह-सुबह का है जब दुकानों में दुध की सप्लाई होती है। चोरो से बचाने के लिए तैनात पुलिस ने खुद ही चोरी करते दिख रही है। गौरतलब है कि दूध के पैकेट की चोरी की यह घटना रविवार (19 जनवरी) की है। सीसीटीवी फुटेज में 19 जनवरी 2020 की तारीख भी देखी जा सकती है। फिलहाल अभी तक पुलिस की तरफ से इसे लेकर कोई बयान जारी नहीं किया गया है और नहीं किसी भी पुलिसकर्मी पर कार्रवाई की गई है।

पुलिस इंचार्ज ने कार्रवाई की बात कही: बता दें कि वीडियो अब तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो की वजह से एक बार फिर यूपी पुलिस पर सवाल उठने लगे हैं। हालांकि यह मामला सामने आने के बाद थाना इंचार्ज ने पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की बात कही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper