सौतेली बेटी से दुष्कर्म कर गर्भवती बनाने वाले आरोपी पिता गिरफ्तार

राजकोट: राजकोट पुलिस ने 16 साल की सौतेली बेटी के साथ दुष्कर्म कर उसे गर्भवती बनाने वाले आरोपी पिता को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे धकेल दिया. आरोपी पिछले दो साल से सौतेली बेटी के साथ दुष्कर्म कर रहा था.

जानकारी के मुताबिक राजकोट के नवागाम के निकट रहनेवाली 40 महिला ने महिला पुलिस थाने में अपने पति के खिलाफ दुष्कर्म शिकायत दर्ज करवाई है. जिसके मुताबिक महिला की पहली शादी रीति रिवाज से हुई थी और वैवाहिक जीवन में एक पुत्री हुई थी. बेटी जब तीन साल की हुई तब महिला ने पहले पति को छोड़ दिया और नेपाल के मूल निवासी जेराम बुजावन चौधरी से शादी कर ली और पुत्री के साथ रहने लगी.

पहले पति से जन्मी पुत्री 16 साल की हो चुकी और कुछ दिन से उसका पेट बढ़ता देख महिला को संदेह हुआ और उसे लेकर निकट के अस्पताल पहुंची. जहां बेटी के गर्भवती होने का पता चलते ही महिला के पैरों तले जमीन खिसक गई. महिला बेटी को घर ले गई और उससे पूछताछ की तो पता चला सौतेला पिता जेराम चौधरी पिछले दो साल से उसके साथ दुष्कर्म कर रहा था.

प्रतिकार करने पर जेराम पीड़िता और उसकी मां को जान से मार देने की धमकी देता. धमकी से डरी पीड़िता पिछले दो साल से सौतेले पिता के अत्याचार बर्दाश्त करती रही. पुलिस ने महिला की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर जेराम चौधरी को गिरफ्तार कर आगे की कार्यवाही शुरू की है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper