स्वास्थ्य व वित्त मंत्री ने जिला चिकित्सालय बरेली किया निरीक्षण, जिला मलेरिया अधिकारी को किया निलम्बित

लखनऊ ब्यूरो। बरेली जनपद में रहस्यमय बुखार से अब तक करीब तीन दर्जन लोगों की मौत के बाद स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह एवं वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल के साथ जिला चिकित्सालय, बरेली का निरीक्षण किया. इस दौरान विभाग के अधिकारियों के खिलाफ कार्य में लापवाही बरतने की शिकायत भी मिला। कार्ययोजना के अनुरूप कार्य न करने के आरोप में जिला मलेरिया अधिकारी को सस्पेंड करने का निर्देश देते हुए जिला अस्पताल के डाक्अरों को कार्य में लापरवाही न बरतने की कड़ी चेतावनी भी दी चुकी है।

उल्लेखनीय है कि बुखार से अब तक 19 लोगों की मौतें हुई हैं और 17 मौतें अन्य कारणों से कुल 36 मौतें अब तक हुई हैं। उन्होंने बताया कि बुखार के मरीजों का खास ध्यान रखा जा रहा है। साफ-सफाई के पूरे इंतजाम हैं। मुख्यालय टीमों के द्वारा 21 गांवों में 1683 रोगियों को उपचार दिया जा रहा है। जगह-जगह फॉगिंग भी कराई जा रही है।

संचारी रोग निदेशक डा. मिथिलेश चतुर्वेदी ने बताया कि प्रभावी नियंत्रण के लिए ब्लाक स्तर पर 26 और जिला स्तर पर चार टीमों का गठन किया गया है। इन टीमों को ब्लाक के सभी गांवों में जाने को कहा गया है। इन टीमों के कार्यों के निरीक्षण के लिए प्रदेश स्तर के अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गयी है। बरेली और बदायूं दोनों जिलों में समस्त ब्लाकों के ग्रामों में कैम्प लगाकर रैपिड डायग्नोस्टिक किट द्वारा मौके पर जांच की जा रही है। मरीजों को आवश्यक औषधियों का वितरण किया जा रहा है। जांच में मलेरिया पाये जाने पर प्रत्येक रोगी के घर के आसपास 50 घरों में फागिंग कराई जा रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper