हड्डियां खोखली करता है इन चीजों का सेवन, तीसरी वाली तो सबसे खतरनाक

नई दिल्ली: इंसान अपने खाने-पीने पर अगर ठीक ढंग से ध्यान ना दे तो बहुत ही जल्द वो किसी ना किसी बीमारी में फंस जाता है क्योंकि इंसान के शरीर को जो जरूरी तत्व मिलनी चाहिए वो अगर वो ना मिल पाए तो इसका बुरा असर हमारे शरीर पर पड़ता है. हम अपने रोजमर्रा की जिंदगी में कुछ ऐसी चीजों का सेवन करते हैं जिससे हमारे शरीर को खासकर हमारी हड्डियों को काफी ज्यादा नुकसान पहुंचता है और हमें इस बारे में जानकारी ना होने के कारण हम इसे रोज अपने खाने-पीने में शामिल कर लते हैं.

कुछ ऐसी ही चीजों के बारे में हम आज बात करेंगे जिससे हमारी हड्डियों को बहुत ही ज्यादा नुकसान पहुंचता है और हमें हड्डियों से संबंधित बीमारियां होने का डर भी रहता है. अगर हम इन सब चीजों का सेवन बहुत ही अधिक मात्रा में करते हैं तो हमें अभी से सचेत हो जाने की जरुरत है. तो चलिए जानते हैं कु हानिकारक चीजों को बारे में…

1. चॉकलेट:- चॉकलेट तो खाने में हमें बहुत ही ज्यादा स्वादिष्ट लगता है लेकिन इसमें फ्लेवोनॉल और कैल्शियम ‘बोन मिनरल डेंसिटी’ को कमजोर करने वाले कुछ ऐसे तत्व मौजूद है जिससे हमारी हड्डियों को काफी ज्यादा नुकसान पहुंचता है और हमें ऑस्टियोपोरोसिस होने का खतरा बढ़ जाता है. तो ऐसे में हमें चॉकलेट के ज्यादा सेवन से बचने की जरुरत है.

2. जानवरों से मिलने वाली प्रोटीन:- इंसान को जानवरों से कई तरह के प्रोटिन मिलते हैं. जैसे की दूध, मांस और अंडे. इंसान इन सब चीजों का सेवन बहुत करता है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इससे हमें बहुत फायदा पहुंचता है लेकिन अगर हम इन सब चीजों का सेवन रोज करते हैं तो हमें हड्डियों से संबंधित बीमारी होने की संभावना ज्यादा बढ़ जाती है.

3. चाय और कॉफी की लत:- लोगों में चाय और कॉफी को लेकर एक अलग ही जुनून देखने को मिलती है. लोग समझते हैं कि इससे हमें नुकसान नहीं पहुंचता लेकिन चाय और कॉफी में मौजूद कैफीन से हमारे शरीर को काफी ज्यादा नुकसान होता है. कैफीन ज्यादा हो जाने पर हमारे शरीर की हड्डियां कमोजर हो जाती है और इससे हमें नुकसान होता हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper