हत्या और पुलिस पर हमले के 505 आरोपी गिरफ्तार, एएलटीएफ ने जब्त की 15 हजार लीटर शराब

पटना: गंभीर अपराधिक घटनाओं में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए बनाए गए ‘वज्र’ कंपनी और प्लाटून का काम दिखने लगा है। 18 से 22 दिसंबर के बीच हत्या, हत्या के प्रयास और पुलिस पर हमले जैसे गंभीर आपराधिक मामलों में 505 अपराधियों को गिरफ्तार करने में वज्र को कामयाबी मिली है। इस अभियान को प्रहार नाम दिया गया है।

सबसे अधिक सारण में 114 गिरफ्तार
पुलिस मुख्यालय के मुताबिक वज्र टीम द्वारा गिरफ्तार किए गए 505 अपराधियों में 64 हत्या, 62 पुलिस पर हमला और 112 हत्या के प्रयास में आरोपी हैं। इनसे 13 हथियार और 60 गोलियां भी बरामद हुई हैं। सबसे अधिक सारण जिले में 114 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। वहीं गोपालगंज में 50, सिवान में 43, पूर्णिया में 41 और नालंदा में 34 अपराधी पकड़े गए।

एएलटीएफ ने 15 हजार लीटर शराब बरामद की
शराब के धंधे के खिलाफ कार्रवाई के लिए विशेष तौर पर गठित एंटी लीकर टास्क फोर्स (एएलटीएफ) ने 18-22 दिसंबर के बीच करीब 15 हजार लीटर शराब बरामद की है। इसमें 6934 लीटर देसी और 8072 लीटर विदेशी शराब शामिल है। एएलटीएफ ने इस दौरान 617 शराब की भट्ठियां ध्वस्त की और 549 शराब के धंधेबाजों को गिरफ्तार किया।

कैमूर में सबसे अधिक 2638 लीटर शराब बरामद
पुलिस मुख्यालय के मुताबिक शराब बरामदगी के मामले में शीर्ष पांच जिलों में कैमूर में 2638, मुजफ्फरपुर में 1461, औरंगाबाद में 1078, दरभंगा में 897 और मोतिहारी में 869 लीटर शराब बरामद की गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper