हथिनी के बाद अब ‘विस्फोटक मिश्रित’ भोजन खाने से गाय घायल, पुलिस जांच शुरू

उमरिया. मध्यप्रदेश के उमरिया जिले में एक गाय के विस्फोटक मिश्रित भोजन खाने से घायल होने के मामले की पुलिस जांच कर रही है। पुलिस अधिकारी ने बुधवार को बताया कि गाय मालिक की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच की जा रही है। जिले के गिन्जरी गांव के निवासी गाय के मालिक ओम प्रकाश अग्रवाल ने बताया,‘‘ हम सुबह गाय को चरने के लिये छोड़ देते थे। गाय घर के आसपास 500 मीटर के दायरे में घूमती थी और शाम को लौट आती थी लेकिन 14 जून को वह वापस नहीं आई तो हमने दो दिन तक उसकी तलाश की और 16 जून को उसे ढूंढ लिया और देखा कि उसका निचला जबड़ा बुरी तरह ज़ख्मी है।”

अग्रवाल ने बताया, ‘‘मुझे संदेह है कि गाय ने विस्फोटक मिला भोजन खाया है। इसके कारण उसका जबड़ा और मुंह ज़ख्मी हो गया है। गाय अब कुछ खा नहीं पा रही है और इस कारण अपने एक माह के बछड़े को दूध भी नहीं पिला पा रही है।” जिला पुलिस अधीक्षक (एसपी) सचिन शर्मा ने पत्रकारों से कहा, ‘‘हमें जानकारी मिली है कि पाली पुलिस थाना क्षेत्र में एक गाय ज़ख्मी हो गयी है। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर पशु चिकित्सक को बुलाकर गाय का उपचार कराया है।” उन्होंने बताया, ‘‘इस संबंध में मामला दर्ज किया गया है और जांच की जा रही है। ”

इसकी बीच इलाके के बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने गाय को घायल करने वाले व्यक्ति की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की और कहा कि ऐसा नहीं होने पर आंदोलन किया जायेगा। दल के नेता उपेंद्र सिंह ने कहा, ‘‘इस मामले में पुलिस ने अगर आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया तो हम उसे तलाश कर लेंगे।” गौरतलब है कि जून के पहले सप्ताह में केरल के पलक्कड़ जिले में एक गर्भवती हथिनी विस्फोटक भरा अनानास खाने से गंभीर रूप से ज़ख्मी हो गई थी और अंत में उसकी मौत हो गई थी। केरल के बाद इसी तरह की एक घटना में हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में एक गर्भवती गाय की मौत हो चुकी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper