हनुमान जी ने बरसाई दिल्ली पर कृपा, दिल्ली वालों I LOVE YOU: केजरीवाल

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने जीत हासिल की है। प्रचंड जीत के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने पार्टी दफ्तर में पार्टी कार्यकर्ताओं के संबोधित किया। उन्होंने कहा, ‘दिल्ली वालों ‘आई लव यू’। केजरीवाल ने कहा कि इस जीत के साथ देश में नई राजनीति की शुरूआत हुई है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता ने अपने भाई अपने बेटे को जिताया है। केजरीवाला ने कहा कि इस जीत के साथ ही हमारी जिम्मेदारी बढ़ गई है। केजरीवाल ने कहा कि अब पांच सालों तक दिल्ली की जनता के लिए मेहतन और लगन से काम करेंगे।

सीएम केजरीवाल ने कहा, “आज मंगलवार है, हनुमान जी का दिन है, हनुमान जी ने आज दिल्ली पर अपनी कृपा बरसाई है, हनुमान जी का भी बहुत-बहुत धन्यवाद, हम सब दिल्लीवासी प्रभू से यही कामना करते हैं कि आने वाले पांच साल में भी हमें ऐसे ही दिशा दिखाता रहें।” अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘मैं सभी दिल्लीवासियों को तहे दिल से शुक्रिया करना चाहता हूं कि जिन्होंने तीसरी बार अपने बेटे पर भरोसा किया, ये जीत मेरी जीत नहीं, ये सभी दिल्लीवासियों की जीत है, ये दिल्ली के हर उस परिवार की जीत है, जिन्होंने मुझे बेटा मानकर हमें जबरदस्त समर्थन दिया, वोट दिया।

उन्होंने कहा कि ये हर उस परिवार की जीत है, जिसे बिजली मिलने लगी है, ये हर उस परिवार की जीत है, जिनके बच्चों को अच्छी शिक्षा मिलने लगी है, दिल्ली के लोगों ने आज देश में एक नई किस्म की राजनीति को जन्म दिया है, एक नई राजनीति को जन्म दिया है, जिसका नाम है काम की राजनीति, दिल्ली के लोगों ने अब संदेश दे दिया कि वोट उसी को जो स्कूल बनवाएगा। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के लोगों ने संदेश दे दिया कि वोट उसी को जो चौबीस घंटे बिजली देगा, वोट उसी को जो सस्ती बिजली, घर-घर पानी देगा और मोहल्ले में सड़क बनवाएगा, यह राजनीति देश के लिए अच्छा संकेत है, यही राजनीति देश को 21वीं सदी में ले जाएगा।

बता दें कि साल 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 67 सीटे मिली थीं, वहीं बीजेपी 3 सीटों पर रही थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper