हमने परमाणु बम दीपावली के लिए नहीं रखा: मोदी

बाड़मेर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान के बाड़मेर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भारत ने पाकिस्तान से डरने की नीति को अब छोड़ दिया है। श्री मोदी ने सभा के दौरान उपस्थित जनता से कहा कि पाकिस्तान हर दूसरे दिन भारत को धमकी भरे अंदाज में कहता था कि उसके पास परमाणु बम है। लेकिन अब भारत ने धमकी से डरने की नीति को छोड़ दिया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जनता से पूछा क्या मैंने सही किया, जनता ने जवाब दिया- हां, उसके बाद श्री मोदी ने जनता से कहा कि अगर उनके पास परमाणु बम है तो फिर हमारे पास क्या है? क्या हमने परमाणु बम दीपावली के लिए रखे हैं? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव रैली के दौरान कहा कि वह देश के युवाओं के सपनों के लिए अपने सपनों की आहुति देने को तैयार हैं क्योंकि युवाओं के सपने ही उनके सपने हैं। श्री मोदी ने लोकसभा चुनाव में पहली बार मतदान करने जा रहे युवाओं को कहा कि ‘’मैं नौजवानों को विश्वास दिलाता हूं कि मैं आपको समझ सकता हूं। आपके सपनों को समझ सकता हूं, आपके इरादों को समझ सकता हूं।

मैं आपके सपनों के लिए अपने सपनों की आहुति देने को तैयार हूं। आपके सपने ही मेरे सपने हैं। श्री मोदी ने कहा ‘’हमारे जो युवा साथी हैं जो लोकसभा के चुनाव में पहली बार वोट डालने वाले हैं उनके लिए यह चुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण है। जो व्यक्ति 21वीं सदी में पैदा हुआ है वह 21वीं सदी के लिए वोट करता है। उसके सामने ये पूरी शताब्दी पड़ी है। 21वीं सदी में एक मजबूत बुलंद सरकार बनाने के मकसद से वह कमल के निशान का बटन दबाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि आपका ये उत्साह और जोश कुछ विरोधियों की नींद उड़ाने के साथ ही सीमा पार वालों की भी नींद उडा रहा है। आने वाली 23 मई 2019 को जब आप एक बार फिर से मोदी सरकार बनाएंगे, और भारत माता का जयकारा करेंगे तो उसकी गूंज सीमा के उस पार भी सुनाई देगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper