हर्ष फायरिंग होने पर दूल्हे और उसके पिता पर दर्ज होगा मुकदमा : एसएसपी

लखनऊ ब्यूरो। न्यायालय के आदेशों के सख्ती से पालन कराये जाने को लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लखनऊ ने शनिवार को सभी थानाध्यक्षों को निर्देश दिया है। कहा कि धार्मिक त्योहारों व शादियों में फायरिंग होती है तो तहरीर आने की चिंता न करते हुए फौरन मुकदमा दर्ज किया जाये।

उन्होंने कहा कि सभी थानाध्यक्ष अपने-अपने क्षेत्र में आने वाले मैरिज लॉन, विवाह स्थल और होटल के मालिकों के साथ बैठक करें। साथ ही न्यायालय की ओर से जारी गाइड लाइन का ईमानदारी से निर्वाहन करने की नसीहत दें। बैठक के दौरान होटल, बारातघर मालिकों व लोगों को बताये कि किसी भी धार्मिक कार्यक्रम या शादी में हर्ष फायरिंग नहीं करना चाहिये।

हर्ष फायरिंग में मृत्यु व चोट कारित होने के प्रकरण में बिना तहरीर की प्रतिक्षा किये प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज की जाये। गैर इरादन हत्या का मुकदमा दर्ज करें। हर्ष फायरिंग होने पर बारातघर मालिक व दूल्हे के विरुद्ध भी कार्यवाही की जायेगी।

हर्ष फायरिंग की घटना होने पर सम्बन्धित व्यक्ति द्वारा यदि घटना की सूचना पुलिस को नहीं दी जाती है, तो उनके विरुद्ध भी विधिक कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि जिस थाना, चौकी क्षेत्र व बीट में हर्ष फायरिंग की घटनाएं होती हैं तो वहां का थानेदार और चौकी प्रभारी जिम्मेदार होंगे। उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper