हर चीज में लीक है, चौकीदार वीक है: राहुल गांधी

नई दिल्ली: सीबीएसई के पेपर लीक होने पर देश की राजनीति भी तेज हो गयी है। माना जा रहा है कि पेपर लीक की वजह से 19 लाख बच्चों को एक बार फिर परीक्षा का सामना करना पड़ेगा। इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नाराजगी भी सामने आयी है। पीएम की नाराजगी के बाद विपक्ष की तरफ से आरोप भी शुरू हो गए हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बेहद तीखा हमला बोला है। राहुल गांधी ने कितने लीक हेडलाइन से एक कविता लिखी है- डेटा लीक, आधार लीक, एसएससी एक्जाम लीक, इलेक्शन डेट लीक, सीबीएसइ पेपर लीक, हर चीज में लीक है, चौकीदार वीक है। वहीं, दिल्ली में जंतर-मंतर पर छात्र पेपर लीक मामले को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने दो मामले दर्ज करके 12वीं कक्षा का अर्थशास्त्र का पेपर तथा 10वीं कक्षा का गणित का पर्चा कथित रूप से लीक होने के मामले की जांच शुरू कर दी है। दिल्ली-एनसीआर में कम से कम 10 छापेमारी भी की गयी है और दो दर्जन लोगों से पूछताछ भी की गयी है। मालूम हो कि कल सीबीएसई ने 12वीं के अर्थशास्त्र और 10वीं के गणित की परीक्षा फिर से आयोजित करने का निर्देश दिया था। इस खबर के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से बात की और नाराजगी जतायी। जावड़ेकर ने भविष्य में लीक प्रूफ परीक्षा लिये जाने की बात कही है, जिसके तहत परीक्षा केंद्र पर ही आधे घंटे पहले प्रश्न पत्र प्रिंट होगा।

इस पूरे मामले में सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि पेपर लीक करने वालों ने सोमवार शाम को 12वीं अर्थशास्त्र की हाथ लिखा हुआ उत्तरपत्र सीबीएसइ एकेडमिक यूनिट का भिजवा दिया था। 12वीं अर्थशास्त्र की परीक्षा मंगलवार को थी। सीबीएसइ ने अपनी शिकायत में कहा है कि अज्ञात शख्स की तरफ से 26 मार्च को शाम छह बजे के आसपास चार पेजों का हाथ से लिखा उत्तर पत्र मिला था। यह उत्तर पत्र एक लिफाफे में कर सीबीएसइ एकेडमिक यूनिट को भेजा गया था। ऐसा करके प्रश्न पत्र लीक करने वालों ने एक तरह चुनौती दी है।

बता दें कि सोमवार को सोशल मीडिया पर अर्थशास्त्र के पेपर के लीक होने का दावा किया गया था जिसके बाद 12वीं के सीबीएसइ के छात्रों के बीच हड़कंप मच गया था। छात्रों का तनाव सीबीएसइ के इस दावे पर भी दूर नहीं हुआ कि उसकी ओर से कोई चूक नहीं हुई है। इस बीच, अपराध शाखा के विशेष आयुक्त आरपी उपाध्याय और अपराध शाखा के संयुक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक से आज शाम आगे की जांच पर चर्चा की। पहला मामला अर्थशास्त्र का पेपर लीक होने के संबंध में मंगलवार को दर्ज किया था वहीं 10वीं का पेपर लीक होने का मामला बुधवार को दर्ज किया गया था. ये मामले धोखाधड़ी, आपराधिक षडयंत्र और आपराधिक विश्वासघात के आरोप में दर्ज किए गए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper