हार्दिक पटेल के 5 करीबी हैं चुनाव मैदान में

अहमदाबाद: पास संयोजक हार्दिक पटेल के 5 करीबियों को कांग्रेस ने टिकट दिया है. पास ने मौजूदा चुनाव में कांग्रेस से 9 सीटों की मांग की थी, लेकिन पांच टिकट मिले. पास की मांग के मुताबिक कांग्रेस पहले ही 4 उम्मीदवारों का ऐलान कर चुकी थी.

बीते दिन पाटण से लॉ कॉलेज के प्रोफेसर किरीट पटेल को कांग्रेस ने उम्मीदवार बनाया है. इससे पहले पास संयोजक ललित वसायो राजकोट जिले की धोराजी सीट से नामांकन पत्र दाखिल कर चुके हैं. पहली सूची में पास के समर्थकों को शामिल करने के लिए कांग्रेस ने फेरबदलकर धीरू गजेरा को वराछा और अशोक जरीवाला को कामरेज विधानसभा सीट से टिकट दिया था. पास सूत्रों के मुताबिक उसने कांग्रेस 9 टिकट मांगे थे, लेकिन उसे केवल 5 दिए गए. पास कन्वीनरों के अलावा एडवोकेट बाबू मांगूकिया जो भावनगर जिले की गारियाधार से चुनाव लड़ना चाहते थे, उन्हें पूर्वी अहमदाबाद के ठक्करबापानगर से कांग्रेस ने उम्मीदवार बनाया है.

ठक्करबापानगर पाटीदारों का गढ़ माना जाता है, इसी वजह से कांग्रेस ने मांगूकिया को यहां से टिकट दिया है. पाटीदार आंदोलन के दौरान इसी क्षेत्र में कस्टोडियल डेथ का मामला सामने आया था. कांग्रेस उम्मीदवार मांगूकिया ने कहा कि वे लोगों की प्रश्नों का प्राथमिकता देंगे. पाटीदार समाज भाजपा से नाराज है उसका लाभ कांग्रेस को जरूर मिलेगा. लेउवा पाटीदार बाबू मांगूकिया 26 अगस्त 2015 को कथित पुलिस कस्टडी में मारे गए श्वेतांग पटेल का केस लड़ा था.

श्वेतांग की सोसायटी ठक्करबापानगर निर्वाचन क्षेत्र में हैं, जहां बड़ी संख्या में लेउवा पटेल रहते हैं. पाटण के कांग्रेस उम्मीदवार किरीट पटेल के मुताबिक उन्हें केवल पाटीदार ही नहीं बल्कि अन्य समाज का भी समर्थन प्राप्त है. किरीट पटेल ने कहा कि फिलहाल में लॉ कॉलेज में आईपीसी पढ़ा रहा हूं और चुनाव के बाद इन लोगों को पढ़ाऊंगा.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper