हिन्दू धर्म को मानने वाली तुलसी गावार्ड लड़ेगी अमेरिकी प्रेसिडेंसियल चुनाव

दिल्ली ब्यूरो: 37 वर्षीय हिन्दू धर्मलम्बी तुलसी गबार्ड 2020 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से प्रत्याशी हो सकती हैं। उनके नज़दीकी सूत्रों के हवाले से यह ख़बर आई है। अगर ऐसा होता है तो वह पहली हिन्दू धर्म को मानने वाली उम्मीदवार होगी।

खबर के मुताबिक़, लॉस एंजिलिस में हुई मेडट्रोनिक कॉन्फ्रेंस के दौरान जानी-मानी भारतीय-अमेरिकी डॉक्टर संपत शिवांगी ने तुलसी गबार्ड का परिचय कराते हुए कहा कि वे 2020 में अमेरिका की राष्ट्रपति हो सकती हैं। उनके इतना कहते ही कार्यक्रम में मौज़ूद सभी लोगों ने खड़े होकर तालियां बजाते हुए इस पर सहमति और प्रसन्नता जताई। तुलसी गबार्ड डेमोक्रेटिक पार्टी की सदस्य और अमेरिका की पहली हिंदू सांसद हैं। वे हवाई प्रांत से चार बार अमेरिकी कांग्रेस के निचले सदन के लिए चुनी जा चुकी हैं।

25 नवम्बर को संघ -वीएचपी की जनाग्रह रैली के मायने

बता दें कि यहूदी-अमेरिकियों के बाद भारतीय-अमेरिकियों को अमेरिका में सबसे धन-संपन्न समुदाय माना जाता है। वैसे ग़ौर करने की बात है कि तुलसी गबार्ड सीधे भारतवंशी नहीं हैं। उनके पिता माइक गबार्ड हवाई से सीनेट के सदस्य रह चुके हैं। वे कैथोलिक ईसाई हैं। उनकी मां कैरल पॉर्टर गबार्ड कॉकेशियन (श्वेत नस्ल की) हैं जो हिंदू धर्म को अपना चुकी हैं। अमेरिकी समोआ में जन्मी और दो साल की उम्र से हवाई में रह रहीं तुलसी गबार्ड भी हिंदू धर्म को मानती हैं।

बताया जाता है कि इस साल क्रिसमस के आसपास गबार्ड राष्ट्रपति चुनाव लड़ने के बाबत फैसला ले सकती हैं। हालांकि इसकी औपचारिक घोषणा अगले साल तक होने की संभावना है। अलबत्ता कहा यह भी जा रहा है कि उनकी टीम ने तैयारी अभी से शुरू कर दी है। इसके तहत फिलहाल उन लोगाें तक बात पहुंचने की कोशिश की जा रही है गबार्ड के चुनाव अभियान में पैसे लगा सकें। इनमें बड़ी तादाद में भारतीय-अमेरिकी हो सकते हैं। इस समुदाय में तुलसी गबार्ड पहले से ही काफी लोकप्रिय हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper