हुसैनगंज मेट्रो स्टेशन पर चल रहे नौ दिवसीय चित्रकला प्रदर्शनी का हुआ समापन, कुमार केशव ने उभरते हुए कलाकारों को सराहा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल काॅर्पोरेशन के हुसैनगंज मेट्रो स्टेशन में आयोजित नौ दिवसीय चित्र प्रदर्शनी का रविवार को विधिवत् समापन हो गया। इस अवसर पर आयोजित समापन समारोह में उत्तर प्रदेश मेट्रो के महानिदेशक, कुमार केशव, निदेशक परिचालन, सुशील कुमार समेत मेट्रो के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया। लखनऊ विश्वविद्यालय के फाइन आर्ट्स के होनहार विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत इस चित्र एवं मूर्तिेकला प्रदर्शनी से आम लोगों में कला के प्रति जागरूकता और समझ में विस्तार हुआ है साथ ही शहर की प्रतिभा को एक मंच भी मिला है।

इस अवसर पर इन ‘बिगिनिंग‘ टीम के इन उभरते कलाकारों को आशीष एवं प्रोत्साहन देने हेतु लखनऊ के पद्मश्री पुरस्कार से विभूषित जाने माने इहिासकार एवं लेखक डाॅ, योगेश प्रवीण, प्रसिद्ध अभिनेता डाॅ, अनिल रस्तोगी, लखनऊ विश्वविद्यालय के आर्ट्स काॅलेज के प्रोफेसर श्री राजन श्रीपद फुलारी, रपटवार उत्सव के संस्थापक श्री भूपेश राय अभिनेत्री अनिता सहगल जैसे गणमान्य अतिथि भी मौजूद रहे।

कार्यक्रम की सफलता पर हर्ष व्यक्त करते हुए यूपी मेट्रो के महाप्रबंधक श्री कुमार केशव ने इस अवसर पर कहा कि; ‘‘शहर के उभरते कलाकारों को मंच प्रदान करने के पीछे हमारा उद्देश्य शहर की कला और विरासत को आगे बढ़ाना है। ये पेंटिंग्स और शिल्प हमारे समय को अभिव्यक्त कर रहे हैं। हमारी चेतना से जुड़े मूलभूत प्रश्नों और मानवीय संवेदनाओं को इन कलाकारों ने अपनी कूची के माध्यम से कैनवास पर बखूबी उभारा है। हम इनके सफल भविष्य की कामना करते हैं।‘‘ इस अवसर पर नोै दिवसीय चित्र प्रदर्शनी के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार प्राप्त करने वाले स्कूली छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया गया। सभी प्रतिभागियों को उनके योगदान के लिए यूपी मेट्रो की तरफ से सर्टिफिकेट भी प्रदान किए गए।

लखनऊ विश्वद्यिालय के ‘बिगिनिंग‘ टीम के कलाकारों ने इस अवसर पर स्टेज पर लाइव प्रदर्शनी का भी आयोजन किया। जहां दर्शकों ने चित्र निर्माण की प्रक्रिया और उसकी बारीकियों को समझा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper