हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट एवं शेखर हॉस्पिटल प्राइवेट लिमिटेड के संयुक्त तत्वावधान में, “निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर” का आयोजन

लखनऊ: प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के 72वें
जन्मदिन के शुभ अवसर पर हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट एवं शेखर
हॉस्पिटल प्राइवेट लिमिटेड के संयुक्त तत्वावधान में, “निःशुल्क
स्वास्थ्य शिविर” का आयोजन हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के
इंदिरा नगर, सेक्टर 25 स्थित कार्यालय में हुआ | शिविर का शुभारंभ ट्रस्ट
के प्रबंध न्यासी श्री हर्षवर्धन अग्रवाल तथा शिविर की परामर्शदाता
चिकित्सक डॉ तान्या सिंह (जनरल फिजिशियन, MBBS) ने दीप प्रज्वलन करके
किया |

इस अवसर पर ट्रस्ट के प्रबंध न्यासी श्री हर्ष वर्धन अग्रवाल ने माननीय
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी को उनके 72वें जन्मदिवस के अवसर पर
ट्रस्ट की ओर से बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि भगवान श्री राम जी
से प्रार्थना है कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का जीवन
सुख, समृद्धि एवं वैभव से परिपूर्ण हो l श्री अग्रवाल ने शेखर हॉस्पिटल
प्राइवेट लिमिटेड के डॉ० तान्या सिंह (जनरल फिजिशियन, MBBS), डॉ देवाशीष
श्रीवास्तव (जनरल फिजिशियन) तथा उनकी टीम के सदस्य आदित्य आर्या,
सावित्री मौर्या, शालिनी देवी, दीपिका पांडेय तथा संदीप कुमार रस्तोगी का
आभार जताते हुए कहा कि, “हमारा भारत एक विशाल देश है | जन सामान्य की
अज्ञानता, आहार-विहार के नियमों के प्रति उदासीनता, स्वास्थ्य के प्रति
लापरवाही आदि के कारण देश में रोगियों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा
रही है | इतनी बड़ी संख्या को चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराना आसान कार्य
नहीं है | लोगों को अपनी सेहत का स्वयं ध्यान रखना चाहिए और किसी प्रकार
की स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या होने पर तत्काल अपने डॉक्टर से सलाह लेकर
उपचार करवाना चाहिए, जिससे बीमारी न बढे और जटिलता से बचा जा सके l हमें
आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है अपने इस शिविर के माध्यम से हम निश्चय ही
माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के स्वस्थ व सुरक्षित भारत के
सपने को पूरा करने में कुछ हद तक अपना योगदान दे सकेंगे I जनहित में
नियमित स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन जारी रहेगा l”

परामर्शदाता डॉ० तान्या सिंह ने कहा कि स्व-दवा की सलाह नहीं दी जाती है
और इंटरनेट प्लेटफॉर्म पर लिखी या उल्लिखित सभी चीजें सही नहीं हैं |
किसी भी बीमारी में लापरवाही, लक्षण घातक हो सकते हैं, बीमारी को बढ़ने
से रोकने के लिए सही समय पर डॉक्टर से सलाह लें |

परामर्शदाता डॉ० देवाशीष श्रीवास्तव ने कहा कि शिविर में ज्यादातर महिलाओ
ने सियाटिका दर्द की समस्या बताई है I उन्हें तनाव मुक्त रहने के लिए
नियमित व्यायाम करने की और पौष्टिक आहार लेने की सलाह दी गयी क्योंकि
बीमारी को जड़ से समाप्त करने के लिए दवाइयों से अच्छा है जीवन शैली
संशोधन I कुछ लोगों में रक्तचाप, मधुमेह तथा बार-बार बुखार आने के लक्षण
थे जिन्हें उचित परामर्श दिया गया I

“निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर” में वयस्कों में होने वाली प्रमुख विभिन्न
बीमारियों जैसे कि, डेंगू, मलेरिया, दस्त, हृदय रोग व मधुमेह (Diabetes /
Sugar), रक्तचाप (Blood Pressure), उलझन या घबराहट होना, पेट में दर्द
होना, गले में दर्द होना, थकावट होना, पीलिया (Jaundice), थाइरॉइड
(Thyroid), मस्तिष्क ज्वर, मनोदशा विकार, गुर्दे में पथरी इत्यादि से
पीड़ित 81 रोगियों को परामर्श दिया गया I स्वास्थ्य शिविर में 79 पीड़ित
रोगियों के वजन, रक्तचाप (Blood Pressure) तथा मधुमेह (Sugar-Random) की
जांच की गयी l डॉ० तान्या सिंह (जनरल फिजिशियन, MBBS) तथा डॉ० देवाशीष
श्रीवास्तव (जनरल फिजिशियन) ने चिकित्सीय परामर्श प्रदान किया तथा
निःशुल्क दवा प्रदान की l महिलाएं, पुरुष, बुजुर्गों तथा बच्चों सभी उम्र
के लोगों ने निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर में चिकित्सीय परामर्श लिया l

इस अवसर पर हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के प्रबंध न्यासी श्री
हर्ष वर्धन अग्रवाल, ट्रस्ट के स्वयंसेवकों तथा शेखर हॉस्पिटल प्राइवेट
लिमिटेड से डॉ० तान्या सिंह (जनरल फिजिशियन, MBBS), डॉ देवाशीष
श्रीवास्तव (जनरल फिजिशियन) तथा उनकी टीम के सदस्य आदित्य आर्या, सावित्री मौर्या, शालिनी देवी, दीपिका पांडेय तथा संदीप कुमार रस्तोगी की
शिविर में सहभागिता रही l

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper