हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित

लखनऊ: हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के इंदिरा नगर, 25/2g, सेक्टर-25 स्थित कार्यालय के सामने स्थित पार्क में, विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर “वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया l कार्यक्रम में ट्रस्ट के प्रबंध न्यासी श्री हर्ष वर्धन अग्रवाल ने नीम, गुड़हल, मनोकामनी, चांदनी, कनेर आदि के पेड़ लगाए l ट्रस्ट के स्वयंसेवकों ने लगाए गए पेड़ो की देख भाल के लिए एक एक पेड़ को गोद लिया है |

इस अवसर पर हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के प्रबंध न्यासी श्री हर्ष वर्धन अग्रवाल ने बताया कि विश्व पृथ्वी दिवस एक वार्षिक आयोजन है, जिसे 22 अप्रैल को दुनिया भर में पर्यावरण संरक्षण लिए आयोजित किया जाता है । इसकी स्थापना अमेरिकी सीनेटर जेराल्ड नेल्सन ने 1970 में एक पर्यावरण शिक्षा के रूप में की थी । अब इसे 192 से अधिक देशों में प्रति वर्ष मनाया जाता है ।

यह तारीख उत्तरी गोलार्द्ध में वसन्त और दक्षिणी गोलार्द्ध में शरद का मौसम है । पृथ्वी दिवस का महत्व इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि, इस दिन हमें ग्लोबल वार्मिंग के बारे में पर्यावरणविदों के माध्यम से पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभाव का पता चलता है । पृथ्वी दिवस जीवन संपदा को बचाने व पर्यावरण को ठीक रखने के बारे में जागरूक करता है । जनसंख्या वृद्धि ने प्राकृतिक संसाधनों पर अनावश्यक बोझ डाला है, संसाधनों के सही इस्तेमाल के लिए पृथ्वी दिवस जैसे कार्यक्रमों का महत्व बढ़ गया है ।

हर्ष वर्धन अग्रवाल ने सबसे अपील की है कि हमे अपनी आने वाली पीढ़ियों के लिए एक बेहतर ग्रह बनाने की अपनी ज़िम्मेदारी निभानी होगी । हमे जलवायु परिवर्तन के खतरे को कम करने के लिए मिलकर काम करना होगा, इसलिए सभी को अपने जीवन में एक पेड़ जरूर लगाना और गोद लेना चाहिए l श्री अग्रवाल ने उन सभी व्यक्तियों और संगठनों को बधाई दी, जो प्रकृति के साथ सद्भाव को बढ़ावा देने और सतत विकास सुनिश्चित करने की दिशा में काम कर रहे हैं ।

इस अवसर पर हेल्प यू एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के स्वयंसेवकों की उपस्थिति रही l

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper