हैवानियत : 25 फीट ऊंचे पुल से नदी में फेंका, भरी ठंड में रात भर तड़पती रही मासूम बच्ची

देहरादून: चंद घंटे पहले जन्मी मासूम बच्ची को 25 फीट ऊंचे पुल से नीचे बिंदाल नदी में फेंक दिया गया था। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। जांच-पड़ताल में इस बात के संकेत मिले हैं कि नवजात को कहीं बाहर से लाकर यहां फेंका गया था। पुलिस के एक अधिकारी का दावा है कि बच्ची फेंकने वाले को इस इलाके की मुकम्मल जानकारी थी।

आपको बता दें कि देहरादून शहर के बीचों-बीच गुजरती है बिंदाल नदी। इसके एक तरफ गोविंदगढ़ कॉलोनी और दूसरी तरफ झुग्गी-झोपडिय़ां हैं। बच्ची के रोने की आवाज सबसे पहले नगर निगम के कर्मचारी कुलदीप ने सुनी थी।

वह सुबह करीब पांच बजे अपने पशुओं को चारा देने घर से बाहर निकले थे। रोने की आवाज सुनकर वह नदी के कीचड़ से होते हुए बच्ची तक पहुंचे। कुलदीप ने पुलिस और मीडिया को वह जगह दिखाई जहां से बच्ची को फेंका गया होगा।

पुल पर लगी जाली का एक हिस्सा कटा हुआ था। मासूम वहां से तकरीबन 25 फीट नीचे कूड़े करकट और कीचड़ में फेंकी गई थी। कुलदीप ने बताया कि जिस समय उसने मासूम को उठाया उस समय वह बेतहाशा रो रही थी। उसके हाथ-पैर टूटे हुए थे। उसने बच्ची को पहले एक कपड़े से साफ किया। फिर महिला अस्पताल पहुंचाया। वहां उस मासूम ने दोपहर लगभग दो बजे दम तोड़ दिया।

इस घटना को लेकर लोगों में भारी गुस्सा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यह मासूम बस्ती के लोगों में से किसी की नहीं है। शायद उसे बाहर से लाकर यहां नदी में फेंका गया है। लोग इस घटना को अंजाम देने वालों को बार-बार कोस रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper