होमवर्क नहीं करने पर दी ऐसी सजा, छात्र की आंख फूटी

रतलाम: टीचर ने स्कूल में एक छात्र को इस कदर टार्चर किया कि अब बच्चा स्कूल जाने के नाम पर भी कांप रहा हैं। स्कूल टीचर के अमानवीय व्यवहार का मामला सामने आया है प्रदेश के रतलाम जिले में, जहां एक महिला टीचर की पिटाई से बच्चे की एक आँख फुट गई। बच्चे की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने होमवर्क नहीं किया था। इस घटना के बाद परिजनों ने हंगामा किया और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है, लेकिन अभी तक महिला टीचर की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जावरा में निजी स्कूल में टीचर की पिटाई से बच्चे की एक आंख फूट गई। रिंगनोद के रहने वाले रोहित लालवानी का 7 वर्षीय बेटा जेनम जावरा के सेंट पीटर स्कूल में कक्षा एक में पढता है। जेनम ने होमवर्क नहीं किया इस बात पर टीचर मनोरमा कारपेंटर ने गुस्से में स्केल से जमकर पिटाई कर दी। पिटाई के बाद छुट्टी होने पर बच्चा घर चला गया। जहाँ छात्र ने अपनी आंख में दर्द होने की बात परिजनों को बताई। इस पर परिजन उसे जावरा के एक निजी चिकित्सक के पास इलाज की लेकर पहुंचे. जहां जेनम जांच करने पर पता चला कि उसकी आंख में गंभीर अंदरूनी चोट आई है, जिससे कि उसे दिखना कम हो गया।

बच्चे ने क्लास टीचर की पूर्ती करतूत परिजनों को बता दी। टीचर ने स्केल से मारा था, जिसकी वजह से आंख में चोट आई। परिजनों ने जावरा पहुंचकर पुलिस को शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। अभी टीचर की गिरफ्तारी नहीं हुई है, वहीं स्कूल प्रबंधन ने पूरे मामले में चुप्पी साध ली है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper