1 महीने से खराब ATM ठीक करने को खोला गया, दिखा कुछ ऐसा कि खिसक गई पैरों तले जमीन !

नई दिल्ली: हर रोज़ हमें अपने आसपास तरह-तरह की खबरें देखने और सुनने को मिलती हैं. इनमें से कुछ खबरें ऐसी होती है जिनको देखकर हमें उन पर जल्दी से यकीन नहीं हो पाता. वहीं कुछ खबरें ऐसी होती है जिन पर हमें जल्दी से यकीन हो जाता है. आज हम आपको असम से एक ऐसी खबर के बारे में बताने जा रहे हैं जो बेहद हैरान कर देने वाली है. इस खबर के बारे में जिसने भी सुना उसको भी यकीन नहीं हुआ. तो चलिये आप भी जान लीजिये इस खबर के बारे में…

बता दें कि असम के तिनसुकिया में बना हुआ ”स्टेट बैंक ऑफ इंडिया” का एक ATM खराब पड़ा हुआ था. खराब ATM की लोगों ने कई बार शिकायत भी की, लेकिन कुछ दिनों तक उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई. जब कर्मचारी ATM ठीक करने पहुंचें तो उन्हें ATM मशीन में कुछ ऐसा दिखा जिसको देखकर उनके पैरों तले जमीन खिसक गई.

दरअसल जब ATM मशीन को ठीक करने कर्मचारी पहुंचे और उन्होंने ATM मशीन को खोला तो उन्हें दिखा कि मशीन के अंदर जितने भी नोट थे उन्हें चूहों ने कुतर दिया है. मशीन में मौजूद नोटों की कीमत 10-20 हज़ार नहीं बल्कि लाखों के आसपास थी. नोटों की ऐसी दशा देखकर वहाँ मौजूद कर्मचारियों ने अपना माथा पकड़ लिया. चूहों के नोट कुतरने से SBI को भारी नुकसान हुआ है.

इस बारे में SBI के अधिकारी ने बताया कि तिनसुकिया के लैपुली में बना SBI का एक ATM किसी तकनीकी वजह से बंद हो गया था. जब इस ATM के खराब होने के बारे में हमें पता चला तो हमने ATM का रखरखाव कर रही कंपनी ” ग्लोबल बिजनेस साल्यूशंस” (जीबीएस) से शिकायत की और फिर कंपनी ने ATM को ठीक करने के लिए कर्मचारी को भेजा.

एसबीआई के अधिकारी ने ये भी बताया कि ATM में मौजूद 12 लाख 38000 नोट चूहों ने कुतर दिये और सिर्फ 17 लाख रुपये ही बच पाए हैं. जिस दिन ग्लोबल बिजनेस साल्यूशंस ने इस ATM में 29 लाख रुपए डाले थे उसके अगले ही दिन से ATM ने काम करना बंद कर दिया. ATM के खबर होने की शिकायत हमें मिलती रही.

इस घटना की जांच करने के लिए बैंक ने FIR भी दर्ज़ करवाई है. वहीं कुछ लोगों का मानना है कि ये घटना एक सोची-समझी साजिश है. लोगों को शक इसलिए हो रहा है कि क्योंकि बैंक अधिकारी ATM को ठीक करने एक महीने बाद आए पहले क्यों नहीं?

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper