11 साल पहले लापता हुआ विक्षिप्त बुजुर्ग पाकिस्तान की जेल में बंद, कैसे सरहद पार कर पहुंचा?

मिर्जापुर: 11 साल पहले घर से निकला विक्षिप्त बुजुर्ग वर्तमान समय में पाकिस्तान जेल में बंद है। वह कैसे और किन परिस्थितियों में सरहद पार कर पाकिस्तान पहुंचा? इसका आज तक पता नहीं चल सका। गुरुवार को गृह मंत्रालय से पत्र मिलते ही एसपी मामले की जांच शुरु कर दी है। साथ ही पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय को वापस लाने की भी कवायद शुरू हो गई है।

जिले के देहात कोतवाली क्षेत्र के भरुहना निवासी पुनवासी पुत्र स्व. कन्हैया लाल मजदूरी करता था। ग्यारह वर्ष पूर्व 2009 में उसकी मानसिक स्थिति खराब हो गई थी। वह घर पर किसी को बताए बगैर निकल गया था। उसके बाद वापस नहीं लौटा। पुनवासी किसी तरह भारत की सरहद पार कर पाकिस्तान चला गया। पाकिस्तान में सरहद पार करने के जुर्म में पुनवासी को बंदी बना लिया गया। पुनवासी को पाकिस्तान के लाहौर जेल में बंद कर दिया गया। तब से आज तक वह पाकिस्तान जेल में ही बंद है।

घरवालों के अनुसार उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं थी। गृह मंत्रालय ने पाकिस्तान जेल में बंद भारतीय के परिजनों की तलाश में जुटा था। मिर्जापुर निवासी के आधार पर जिला व पुलिस प्रशासन भी उसकी पहचान कराने में जुटा था। इसी दौरान पता चला कि भरूहना निवासी ही 50 वर्षीय पुनवासी विक्षिप्त अवस्था में घर से निकला था। वह किस तरह सरहद पार कर पाकिस्तान पहुंच गया। इस सदंर्भ में प्रभारी एसपी संजय वर्मा ने बताया कि पाकिस्तान जेल में बंद भारतीय व्यक्ति की मिर्जापुर जिला निवासी के रुप में हो गई है। अब गृह मंत्रालय के माध्यम से उसे पाकिस्तान से वापस लाया जाएगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper