130 KM प्रति घंटे तक बढ़ाई जाएगी ट्रेनों की स्पीड, दिल्ली से पटना, कोलकाता, मुंबई की यात्रा होगी आसान

नई दिल्ली: दिल्ली से पटना, मुंबई, कोलकाता जैसे शहरों की यात्रा करने में आने वाले समय में कम समय लगेंगे। भारतीय रेलवे ने दिल्ली से मुंबई और दिल्ली से हावड़ा तक दो मार्गों पर ट्रेन की स्पीड को 130 किलोमीटर प्रति घंटे करने का फैसला किया है। इससे कम समय में अधिक यात्रियों की आवाजाही संभव होगी।

रेलवे बोर्ड के सदस्य (सिग्नल एंड टेलीकॉम) प्रदीप कुमार ने कहा, “दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई मार्ग फिटनेस और सिग्नलिंग विचार के लिए लगभग तैयार है। इस मार्ग पर ट्रेनें 130 किमी की स्पीड से चल सकती हैं। इस वित्तीय वर्ष में इन दोनों मार्गों पर ट्रेन की गति बढ़ाई जा सकती है।’

आगे उन्होंने कहा, “जैसा कि पहले घोषणा की गई थी, हम भविष्य में इन पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से ट्रेनें चलाएंगे। इसके लिए सभी परियोजनाओं पर काम चल रहा है।” उन्होंने कहा, “पिछले कुछ वर्षों से रेलवे द्वारा ट्रेनों की गति में सुधार के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। हम तकनीकी रूप से सभी ट्रैक, सिग्नल, कोच इत्यादि को अपग्रेड कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “हमारी कोशिश है कि ज्यादातर ट्रेनों को नए एलएचबी कोच से अपग्रेड किया जाए, जो किया यात्रा को आरामदायक बनाती है। इससे ट्रेनों की हगति 120-130 किमी प्रति घंटे तक की जा सकती है, बशर्ते कि ट्रैक फिटनेस, सिग्नल और अन्य तकनीकी चीजें अनुकूल परिस्थितियों में हों।”

उल्लेखनीय है कि राजधानी और शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेनों की गति कई मार्गों पर बढ़ा दी गई है। साथ ही, वंदे भारत जैसी सेमी-हाई स्पीड ट्रेनें भी रेलवे द्वारा संचालित की जा रही हैं। ऐसी स्थिति में, यह उम्मीद की जा सकती है कि आने वाले समय में सेमी-हाई स्पीड ट्रेनों की संख्या में वृद्धि होगी और कुछ नए रूट भी इन ट्रेनों के साथ काम करने के लिए तैयार होंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper