14. 5 लाख दीपो से फिर जगमगा होगी अयोध्या,नया कीर्तिमान स्थापित करने का प्रयास

अयोध्या: राम नगरी में एक बार फिर त्रेता युग की झलक देखने को मिलेगी। अयोध्या में इन दिनों दीपोत्सव की तैयारियां जोरों पर चल रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जब से मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है तब से अयोध्या में दिव्य और भव्य दीपोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इससे पहले भी दीपोत्सव का आयोजन किया जा चुका है। एक बार फिर अयोध्या में दीपोत्सव को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं। अयोध्या को रोशन करने के लिए वृहद स्तर पर योजना बनाई गई है और भाजपा कार्यकर्ता इसके लिए अभी से जुट गए हैं। इस बार राम की पैड़ी से लेकर सरयू घाट तक साढ़े 14 लाख से अधिक दीप प्रज्वलित कर एक नया कीर्तिमान स्थापित करने का प्रयास योगी सरकार कर रही है। दीपोत्सव के दौरान आतिशबाजी से लेकर लेजर शो तक का आयोजन किया जाएगा।

सीएम योगी का सपना हो रहा साकार : रामनगरी को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सपना था कि अयोध्या का मान-सम्मान विश्व के मानचित्र पर स्थापित हो। वह सपना अब हकीकत में होते दिखाई दे रहा है क्योंकि लगातार चार बार विश्व के मानचित्र पर दीपोत्सव गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करा चुका है। वहीं, नगर विधायक वेद प्रकाश गुप्ता बताते हैं कि इस बार दीपोत्सव पिछली बार से भी ज्यादा ऐतिहासिक होगा। अयोध्या के संत महंत समेत पूरा देश इस ऐतिहासिक पल को लेकर व्याकुल है।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए लगेगी स्क्रीन

नगर विधायक बताते हैं कि दीपोत्सव में हर चौराहे को सजाया जाएगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। एलईडी स्क्रीन के माध्यम से प्रमुख चौराहे पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का प्रसारण किया जाएगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper