2 दोस्तों संग मिलकर गर्लफ्रेंड ने किया कत्ल, बेडशीट में लपेटकर किचन में फेंका शव

कौशांबी: मोहब्बत के महीने में त्रिकोणीय प्रेम के कारण एक युवक की हत्या कर दी गई। प्राथमिक जांच के बाद पुलिस का दावा है कि हत्या गर्लफ्रेंड और दो अन्य दोस्तों ने मिलकर की। हत्या के बाद आरोपी शव को फ्लैट में बंद कर फरार हो गए। वैशाली सेक्टर-4 के प्लॉट नंबर-4/212 के फ्लैट से बदबू आने के बाद बुधवार को लोगों ने पुलिस को बुलाया तो हत्या का पता चला। यहां सारा सामान अस्त-व्यस्त मिला था।

गुरुवार को मृतक युवक की पहचान सिकंदरपुर गांव के नितिन चौधरी के रूप में हुई। हत्या किस चीज से की गई, अभी इसका पता नहीं चल सका है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में ले लिया है। वहीं, आरोपी युवती की तलाश की जा रही है।

बेडशीट में लपेटकर किचन में फेंका शव
सूत्रों ने बताया कि नितिन के मोबाइल नंबर की छानबीन से पता चला कि उसकी एक युवती से फोन पर बातचीत होती थी। नितिन की युवती से गहरी दोस्ती थी। दोनों में अनबन शुरू हुई तो युवती ने दो दोस्तों के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची। उसके बाद आरोपियों ने फ्लैट के अंदर नितिन की हत्या की और शव को बेडशीट में लपेटकर किचन में फेंक दिया।

फ्लैट में अक्सर होती थी पार्टी
आसपास के लोगों ने बताया कि इस फ्लैट में यह युवक और उसके कई दोस्त अक्सर आते थे। अक्सर फ्लैट में पार्टी भी होती थी, जो देर रात तक चलती थी। अभी कुछ दिन से फ्लैट बंद था, लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया।

बदबू आने पर हुआ था शक

कई दिन से बंद फ्लैट में बदबू आने के बाद लोगों को शक हुआ था। लोगों ने अपने स्तर पर फ्लैट मालिक से संपर्क की कोशिश की, लेकिन कुछ पता नहीं चला तो बुधवार को पुलिस को सूचना दी गई। इसके बाद पुलिस ने फ्लैट खोला तो अंदर शव मिला था।

आठ महीने से यहां नहीं आया मालिक
जांच में पता चला था कि फ्लैट मालिक दिल्ली में रहता है। उसने अपने एक दोस्त को फ्लैट किराए पर चढ़ाने के लिए दिया था। उनके दोस्त से पूछताछ हुई तो उसने भी किसी तीसरे व्यक्ति को चाबी दी हुई थी। कोरोना के कारण करीब आठ महीने से मालिक अपने फ्लैट में नहीं आया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper