20 घंटे बाद भी लापता विमान का कोई सुराग नहीं, सर्च ऑपरेशन में लगे C 130J, सुखोई-30 और MI 17

ईटानगर: भारतीय वायुसेना का एएन-32 विमान सोमवार को असम से उड़ान भरने के 35 मिनट बाद लापता हो गया। विमान में 13 लोग सवार थे और यह अरुणाचल प्रदेश की ओर जा रहा था। यातायात विमान अरुणाचल प्रदेश के मेचुका में एडवांस लैंडिंग ग्राउंड तक जा रहा था। मेचुका चीन से सटे अरुणाचल प्रदेश के सियांग जिले का एक छोटा सा शहर है। वायुसेना के एक अधिकारी ने कहा, भारतीय वायु सेना के एक एएन-32 विमान ने जोरहाट से अपराह्न् 12.25 बजे उड़ान भरी था, विमान का अपराह्न् 1 बजे जमीनी एजेंसियों से संपर्क कट गया। उसके बाद से विमान से कोई संपर्क नहीं हो सका है। लापता हुए विमान को अब तक 20 घंटे हो चुके है लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका है।

भारतीय वायुसेना ने विमान का पता लगाने के लिए सभी संभव संसाधन लगा दिए हैं। इसमें सी-130जे, सी 130 हरक्यूलिस, सुखोई सू-30 फाइटर जेट शामिल हैं। अधिकारियों ने कहा कि सेना, भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस और अरुणाचल प्रदेश पुलिस लापता विमान को खोजने की कोशिश कर रही है। गुवाहाटी में रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल पी. खोंगसाई ने कहा कि लापता विमान को खोजने के प्रयास किए जा रहे हैं।

नई दिल्ली में, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा, वायु सेना के वाइस चीफ एयर मार्शल राकेश सिंह भदुरिया से वायुसेना के लापता विमान एएन-32 के बारे में बात की, जोकि कुछ घंटों से लापता है। मंत्री ने कहा, उन्होंने मुझे लापता विमान को खोजने के लिए वायुसेना द्वारा उठाए गए कदम को लेकर अवगत कराया। मैं विमान में सवार सभी लोगों की सुरक्षा की कामना करता हूं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper