LIVE: दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम को सम्बोधित कर रहे हैं प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में अपनी बात रख रहे हैं। उन्होंने जलवायु परिवर्तन को एक बहुत बड़ी चुनौती बताते हुए जलवायु परिवर्तन को काबू करने के लिए मिलकर काम करने की जरूरत पर बल दिया। उन्होंने कहा कि भारत वसुधैव कुटुम्बकम के मंत्र को मानता है। मानवता के लिए तीन महत्वपूर्ण चुनौतियां हैं।

पूरी दुनिया को चुनौतियों का साझा सामना करने की जरूरत है। उन्होंने सवाल उठाया कि वो कौन सी शक्तियां हैं जो दुनिया में सामंजस्य की जगह अलगाव चाहतीं है। कहा, हमारे सामने कई महत्वपूर्ण सवाल हैं। साइबर सिक्यॉरिटी और न्यूक्लियर टेक्नोलॉजी दुनिया के लिए महत्वपूर्ण है। डेटा ही दुनिया का भविष्य, जो इस पर काबू रखेगा वही आगे जाएगा। टेक्नोलॉजी ने दुनिया को बदली।

प्रधानमंत्री मोदी सोमवार की शाम को ही दावोस पहुंच गये थे। उन्होंने दुनिया के जाने माने 40 सीईओ के साथ प्राइवेट राउंड टेबल डिनर किया। उन्होंने सीईओ से कहा कि इंडिया का मतलब ही बिजनेस है। प्रधानमंत्री के साथ वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। राउंड टेबल डिनर में 20 भारतीय कंपनियों के सीईओ शामिल हुए थे। प्रधानमंत्री के साथ केन्द्गीय मंत्री अरुण जेटली, सुरेश प्रभु, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान, एम. जे. अकबर और जितेंद्र सिंह भी गये हुए हैं।

मीटिंग के बाद विदेश मंत्रालय प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर जानकारी दी कि मोदी ने तमाम सीईओ के साथ चर्चा में भारत के लगातार हो रहे विकास की बातें सामने रखीं। भारत के टॉप सीईओ प्रतिनिधिमंडल में करीब 100 लोग हैं। इनमें उद्योगपति मुकेश अंबानी, एन चंद्रशेखरन, राहुल बजाज, अजीम प्रेमी, सुनील मित्तल, सज्जन भजदल, गौतम अडानी, आनंद मभहद्रा, बाबा कल्याणी, पवन मुंजाल, हरि भरतिया, उदय कोटक और चंदा कोचर आदि हैं।

प्रधानमंत्री मोदी से पहले 1997 में देवेगौड़ा इस सम्मेलन में शामिल हुए थे। नरसिम्हा राव 1994 में इस सम्मेलन में शामिल होने वाले भारत के पहले प्रधानमंत्री थे। अटल बिहारी वाजपेयी और मनमोहन सिंह अपने कार्यकाल के दौरान इस सम्मेलन में शामिल नहीं हुए थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper