2022 में कब-कब, कौन-सा ग्रह राशि किस करेगा परिवर्तन

 

प्राचीन भारत में ज्योतिष का अर्थ ग्रहों और नक्षत्रों की चाल का अध्ययन करने के लिए था, यानि ब्रह्माण्ड के बारे में अध्ययन। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हमारे सौर मंडल में 9 ग्रह है सूर्य, चंद्र, मंगल, बुध, शुक्र, शनि, गुरु, राहु और केतु। इनमें से राहु और केतु को छाया ग्रह माना गया है। ये सभी ग्रह समय-समय पर राशि बदलते हैं। ज्योतिष शास्त्र में राशियों की संख्या 12 बताई गई है। जब भी कोई ग्रह राशि बदलता है या उसकी चाल में परिवर्तन होता है तो उसका असर मानव जीवन पर भी पड़ता है। किसी के लिए ये परिवर्तन शुभ रहता है तो किसी के लिए अशुभ। साल 2022 में कब-कब, कौन-सा ग्रह राशि परिवर्तन करेगा, इसकी जानकारी इस प्रकार है…

जनवरी
सूर्य- महीने के आरंभ में धनु राशि में, 14 जनवरी से मकर राशि में
मंगल- महीने के आरंभ में वृश्चिक राशि में, 16 जनवरी से धनु राशि में
बुध- महीने के आरंभ में मकर राशि में, 15 जनवरी से वक्री
गुरु- कुंभ राशि में
शुक्र- धनु राशि में वक्री, 30 जनवरी से मार्गी
शनि- मकर राशि में
राहु- वृष राशि में
केतु- वृश्चिक राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

फरवरी
सूर्य- महीने के आरंभ में मकर राशि में, 13 फरवरी से कुंभ राशि में
मंगल- महीने के आरंभ में धनु राशि में, 26 फरवरी से मकर राशि में
बुध- महीने के आरंभ में मकर राशि में वक्री, 4 फरवरी से मार्गी
गुरु- कुंभ राशि में
शुक्र- महीने के आरंभ में धनु राशि में, 27 फरवरी से मकर राशि में
शनि- मकर राशि में
राहु- वृष राशि में
केतु- वृश्चिक राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

मार्च
सूर्य- महीने के आरंभ में कुंभ राशि में, 14 मार्च से मीन राशि में
मंगल- मकर राशि में
बुध- महीने के आरंभ में मकर राशि में, 6 मार्च से कुंभ राशि में, 24 से मीन राशि में
गुरु- कुंभ राशि में
शुक्र- महीने के आरंभ में मकर राशि में, 31 मार्च से कुंभ राशि में
शनि- मकर राशि में
राहु- वृष राशि में
केतु- वृश्चिक राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

अप्रैल
सूर्य- महीने के आरंभ में मीन राशि में, 14 अप्रैल से मेष राशि में
मंगल- महीने के आरंभ में मकर राशि में, 7 अप्रैल से कुंभ में
बुध- महीने के आरंभ में मीन राशि में, 8 अप्रैल से मेष में, 24 से वृषभ राशि में
गुरु- महीने के आरंभ में कुंभ राशि में, 13 अप्रैल से मीन में
शुक्र- महीने के आरंभ में कुंभ राशि में, 27 अप्रैल से मीन में
शनि- महीने के आरंभ में मकर राशि में, 29 अप्रैल से कुंभ राशि में
राहु- महीने के आरंभ में वृष राशि में, 12 अप्रैल से मेष में
केतु- महीने के आरंभ में वृश्चिक राशि में, 12 अप्रैल से तुला में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

मई
सूर्य- महीने के आरंभ में मेष राशि में, 15 मई से वृष में
मंगल- महीने के आरंभ में कुंभ राशि में, 17 से मीन राशि में
बुध- महीने के आरंभ में वृषभ राशि में, 11 मई से वक्री
गुरु- मीन राशि में
शुक्र- महीने के आरंभ में मीन राशि में, 23 मई से मेष में
शनि- कुंभ राशि में
राहु- मेष राशि में
केतु- तुला राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

जून
सूर्य- महीने के आरंभ में वृषभ राशि में, 15 से मिथुन राशि में
मंगल- महीने के आरंभ में मीन राशि में, 27 से मेष राशि में
बुध- महीने के आरंभ में वृषभ राशि में वक्री, 4 से मार्गी
गुरु- मीन राशि में
शुक्र- महीने के आरंभ में मेष राशि में, 18 से वृषभ राशि में
शनि- कुंभ राशि में, 5 से वक्री
राहु- मेष राशि में
केतु- तुला राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

जुलाई
सूर्य- महीने के आरंभ में मिथुन राशि में, 17 से कर्क राशि में
मंगल- मेष राशि में
बुध- महीने के आरंभ में वृषभ राशि में, 2 से मिथुन राशि में, 16 से कर्क में
गुरु- मीन राशि में, 29 से वक्री
शुक्र- महीने के आरंभ में वृषभ राशि में, 13 से मिथुन में
शनि- महीने के आरंभ में कुंभ राशि में वक्री, 12 से मकर राशि में वक्री
राहु- मेष राशि में
केतु- तुला राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

अगस्त
सूर्य- महीने के आरंभ में कर्क राशि में, 17 से सिंह में
मंगल- मेष राशि में, 10 से वृषभ राशि में
बुध- 1 अगस्त से सिंह में, 20 से कन्या में
गुरु- मीन राशि में वक्री
शुक्र- महीने के आरंभ में मिथुन में, 6 से कर्क में, 31 से सिंह में
शनि- मकर राशि में वक्री
राहु- मेष राशि में
केतु- तुला राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

सितंबर
सूर्य- महीने के आरंभ में सिंह में, 17 से कन्या में
मंगल- वृषभ राशि में
बुध- महीने के आरंभ में कन्या राशि में, 10 से वक्री
गुरु- मीन राशि में वक्री
शुक्र- महीने के आरंभ में सिंह राशि में, 24 से कन्या राशि में
शनि- मकर राशि में वक्री
राहु- मेष राशि में
केतु- तुला राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

अक्टूबर
सूर्य- महीने के आरंभ में कन्या में, 18 से तुला में
मंगल- महीने के आरंभ में वृषभ राशि में, 15 से मिथुन में, 31 से वक्री
बुध- महीने के आरंभ में कन्या राशि में वक्री, 2 से सिंह राशि में वक्री, 3 कन्या राशि में मार्गी, 26 से तुला में
गुरु- मीन राशि में वक्री
शुक्र- महीने के आरंभ में कन्या राशि में, 18 से तुला में
शनि- मकर राशि में वक्री, 26 से मार्गी
राहु- मेष राशि में
केतु- तुला राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

नवंबर
सूर्य- महीने के आरंभ में तुला राशि में, 17 से वृश्चिक राशि में
मंगल- महीने के आरंभ में मिथुन में वक्री, 14 से वृष राशि में वक्री
बुध- महीने के आरंभ में तुला में, 13 से वृश्चिक राशि में
गुरु- मीन राशि में वक्री, 24 से मार्गी
शुक्र- महीने के आरंभ में तुला राशि में, 11 से वृश्चिक राशि में
शनि- मकर राशि में
राहु- मेष राशि में
केतु- तुला राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

दिसंबर
सूर्य- महीने के आरंभ में वृश्चिक राशि में, 16 से धनु राशि में
मंगल- वृष राशि में वक्री
बुध- महीने के आरंभ में वृश्चिक राशि में, 2 से धनु राशि में, 27 से मकर राशि में, 29 की रात से वक्री, 31 से धनु में
गुरु- मीन राशि में
शुक्र- महीने के आरंभ में वृश्चिक राशि में, 5 से धनु राशि में, 29 से मकर राशि में
शनि- मकर राशि में
राहु- मेष राशि में
केतु- तुला राशि में
चंद्रमा- हर सवा दो दिन में राशि बदलेगा

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper