211 कलाकारों ने गाया ‘आत्मनिर्भर भारत’ गाना, लता मंगेशकर के ट्वीट पर प्रधानमंत्री ने लिखी ये बात

मुंबई: देश में कोरोनावायरस महामारी के चलते लॉकडाउन है. लोग अपने घरों में ही दिन गुजार रहे हैं. ऐसे मुश्किल हालात में लोगों का उत्साह बढ़ाने और उन्हें प्रेरित करने के लिए देश भर के मशहूर सिंगर्स ने एक सॉन्ग तैयार किया है. जिसे सुनकर लोगों में पॉजिटिविटी आएगी. इस सॉन्ग को इंडियन सिंगर्स राइट एसोसिएशन (ISPRA) के 211 कलाकारों ने मिलकर गाया है.

प्रधानमंत्री मोदी के आत्मनिर्भर भारत की भावना से प्रेरित होकर गीत का निर्माण किया गया है. पीएम मोदी ने भारत रत्न सिंगर लता मंगेशकर के वीडियो को रिट्वीट करते हुए लिखा, ये गाना सभी को प्रेरित और उत्साहित करेगा. ये गीत सभी को आत्म निर्भर भारत के लिए मधुर संदेश देता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narender Modi) ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक गाने का वीडियो शेयर किया है. इस गाने का नाम है “जयतु-जयतु भारतम्- वसुधैव कुटुंबकम” जिसे 200 से ज्यादा सिंगर ने कोरोनावायरस महामारी के बीच आत्मनिर्भर भारत से प्ररित होकर गाया है.

लॉकडाउन की वजह से आशा भोसले, सोनू निगम, शंकर महादेवन, शान, उसा उथपू और प्रशून जोशिश जैसे सिंगर्स ने अपने घरों में गीत के हिस्से को रिकॉर्ड किया है. इस सॉन्ग को शंकर महादेवन ने कंपोज किया और प्रशून जोशी ने लिखा है. लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) ने वीडियो ट्वीट कर लिखा, हमारे ISRA के बहुत गुणी 211 कलाकारों ने एक होकर आत्मनिर्भर भारत की भावना से प्रेरित इस गीत का निर्माण किया है, जो पूरे भारत की जनता को और हमारे आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्रभाई मोदीजी को हम अर्पण करते हैं. जयतु भारतम्

इस सॉन्ग के वीडियो में कोविड-19 (Covid-19) वॉरियर्स, स्वास्थ्य कर्मचारियों (Health workers) की कुछ क्लिप भी हैं. इसमें अंत में प्रधानमंत्री मोदी की क्लिप भी है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper