22 नवंबर को दिल्ली में बीजेपी के खिलाफ विपक्ष की होगी बैठक 

  कर्नाटक उपचुनाव परिणाम सामने आने के बाद विपक्षी एकता की सुगबुगाहट फिर से बढ़ गई है। विपक्ष को लगने लगा है कि साझी राजनीति के जरिये बीजेपी की विस्तारवादी राजनीति को रोका जा सकता है। यह बात और है कि बीजेपी के खिलाफ विपक्षी एकता की बात लम्बे समय से की जा रही है लेकिन अभी तक एकजुटता दिखाई नहीं पद रही है। कर्नाटक परिणाम के बाद एकजुटता की बाते अब आगे बढ़ती दिख रही है। इस एकजुटता के सूत्रधार बने हैं आंध्रा प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू। खबर है कि बीजेपी को मात देने के लिए 22 नवम्बर को सभी विपक्षी दलों की एक अहम बैठक दिल्ली में होगी।
    बता दें कि एंटी-बीजेपी फ्रंट को मजबूत करने की कोशिशों के बीच चंद्रबाबू नायडू शनिवार शाम अमरावती में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत से मुलाकात की। इस मीटिंग में ये तय हुआ कि बीजेपी के खिलाफ विपक्ष के सभी बड़े दल 22 नवंबर को दिल्ली में एक मीटिंग करेंगे। गहलोत से मुलाकात के बाद आंध्र के सीएम चंद्रबाबू नायडू ने कहा, ‘ 2019 के चुनाव में बीजेपी के खिलाफ बाकी दलों को एकजुट करने की कोशिशें जारी हैं। दिल्ली में होने वाली मीटिंग से पहले मैं 19 नवंबर को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से मुलाकात करूंगा और गठबंधन के लिए उनका समर्थन मांगेंगे।’

दरअसल, आंध्र प्रदेश के लिए स्पेशल स्टेटस और स्पेशल पैकेज नहीं मिलने से नाराज चंद्रबाबू ने जब से केंद्र की एनडीए सरकार से समर्थन वापस लिया है, तब से वह बीजेपी विरोधी दलों को एकजुट करने में लगे हैं। इससे पहले  उन्होंने जेडीएस प्रमुख और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा से मुलाकात की थी। इससे पहले तेलुगू देशम  अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू ने चेन्नई में डीएमके चीफ एमके स्टालिन से उनके घर जाकर मुलाकात की थी।नायडू ने कहा कि मैंने मायावती, अखिलेश यादव से बातचीत की और सभी से मुलाकात की है। हम तय करेंगे कि आम सहमति के साथ गठबंधन कैसे आगे ले जाया जाए। यह शुरुआती कवायद है। इसके बाद हम मिलकर काम करेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper