3 फुट 2 इंच की इस लड़की का लोगों ने उड़ाया मजाक ,आईएएस बनके दिया सबको जवाब

यदि आपकी हाइट कम हो तो कभी न कभी आपको भी सुनने का मिली ही होगी । समाज में छोटी हाइट वालों को इस प्रकार देखा जाता है जैसे वह बोझ हो। ऐसे में कोई व्यक्ति अगर हाइट में कम हो तो समाज के लोगों द्वारा मजाक बनकर रह जाते हैं। लेकिन ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कि एक कम हाइट वाली महिला ने कुछ ऐसा कर दिखाया है, जिसने एक मिसाल कायम करके रख दिया।

उसने समाज की चुनौतियों का सामना करके एक ऐसा काम किया, जिससे लोगों के मुंह बंद हो गये। लोग चाहकर भी उस कम हाइट वाली महिला का मजाक नहीं बना पाएंगे। आज इस लेख में हम आपको एक ऐसे ही महिला के बारे में बताएंगे जो हाइट में काफी कम है। लेकिन उन्होंने कभी भी अपनी सफलता के बीच यह रुकावट नहीं आने दी और एक ऐसा मुकाम हासिल किया कि अब कोई भी उनके बारे में अपनी टिप्पणी नहीं दे सकेंगे।

यह कहानी है आरती डोगरा की जो अपने जीवन के संघर्षों को पास करते हुए यूपीएससी परीक्षा में सफल होकर वर्तमान में एक आईएएस ऑफिसर है। आरती डोगरा उत्तराखंड की रहने वाली है जो एक मध्यमवर्गीय परिवार से संबंधित है। इनकी मां प्रिंसिपल थी और इनके पिता आदमी में कर्नल और माता स्कूल में प्रिंसिपल है। आरती डोगरा 3 फुट 2 इंच एक बोनी महिला है और इनको अपनी कम हाइट को लेकर काफी संघर्ष करना पड़ा, जो इनके लिए बेहद मुश्किल रहा है लेकिन इसके बावजूद भी उन्होंने कभी हार नहीं मानी।

सभी मुश्किलों का डटकर सामना करते हुए उन्होंने अपनी मंजिल को हासिल कर लिया। उनके पास परिवार का संपूर्ण सहयोग था। कॉलेज के दिनों में उन्हें राजनीति बेहद पसंद थी और वह इससे जुड़ी रहती थी। देहरादून के कलेक्टर मनीषा से मिलने के बाद उनकी जिंदगी पूरी तरह से बदल गई। 2006 यूपीएससी बैच की आईएएस ऑफिसर बनकर उन्होंने मिसाल कायम कर दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper