42 हफ्ते के कठिन प्रशिक्षण के बाद 94 रंगरूट बने भारतीय सेना का हिस्सा

वाराणसी: वाराणसी के 39 गोरखा ट्रेनिंग सेंटर में 42 हफ्ते के कठिन प्रशिक्षण के बाद 94 रंगरूट मंगलवार की सुबह भारतीय सेना के हिस्सा बने। पासिंग आउट परेड की सलामी पूर्वी यूपी/एमपी सब एरिया कमांडर मेजर जनरल इंद्र सिंह लांबा ने ली। पासिंग आउट परेड के बाद देश के लिए जान न्यौछावर करने की शपथ लेने वाले गोरखा जवानों को नेपाली संस्कृति के अनुसार उनका परंपरागत औजार खुकरी भेंट की गई।

मेजर जनरल इंद्र सिंह लांबा ने रंगरूटों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी जवान हमेशा शिक्षा से जुड़े रहें और रोजाना कुछ नया सीखते रहें। चीन और पाकिस्तान जैसे दुश्मन देशों के छक्के छुड़ाने में हम कभी पीछे नहीं रहेंगे और हमेशा मुंहतोड़ जवाब देंगे।

यह जीवन इस देश की रक्षा और सेवा के लिए है। हम सभी को खुद पर इसलिए गर्वान्वित होना चाहिए कि हम विश्व की सर्वश्रेष्ठ सेना का हिस्सा है। पासिंग आउट परेड में 39 जीटीसी के कमांडिंग अफसर ब्रिगेडियर हुकुम सिंह बैंसला, डिप्टी कमांडेंट कर्नल वीएस सावियान और एजुकेशन अफसर कर्नल विकास आदि मौजूद रहे। उधर, भारतीय सेना का हिस्सा बनने वाले रंगरूटों को पासिंग आउट परेड में देख कर उनके परिजनों की आंखों में खुशी के आंसू दिखे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper