6 जुलाई से ताजमहल को नहीं खोलने का हुआ फैसला

आगरा: दुनिया के सात अजूबों में शामिल आगरा के ताजमहल को 6 जुलाई से पर्यटकों के लिए नहीं खोला जाएगा। ताज के दीदार का इंतजार एक बार फिर बढ़ गया है। शहर में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच जिला प्रशासन ने यह फैसला लिया है। बता दें कि पिछले चार दिन में आगरा में 55 नए मामले सामने आए हैं। इसी कारण ताजमहल समेत जिले के तीन ऐतिहासिक स्मारकों को सोमवार से फिर से खोलने के फैसले को रोक दिया गया है।

ताजमहल, फतेहपुर सीकरी और आगरा किला तीनों बफर जोन के अंदर हैं। जिला अधिकारी प्रभु नारायण सिंह ने कहा कि हमने लोगों के हित में यह फैसला लिया है। केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रह्लाद पटेल ने संरक्षित स्मारकों को खोले जाने के संबंध में ट्वीट कर निर्देश दिए थे। उसके बाद से जिला प्रशासन लगातार मंथन कर रहा था। ताजमहल, फतेहपुर सीकरी और आगरा किला को खोले जाने वाली सूची में शामिल किया गया था। पुरातत्व विभाग ने तीनों स्मारक खोले जाने के बारे में गाइडलाइन भी जारी कर दी थी।

इधर रविवार को जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने प्रशासनिक, पुलिस और पुरातत्व विभाग के अधिकारियों की बैठक बुलाकर राय ली। तय किया गया कि ताजमहल बफर जोन में आता है। इसलिए इस समय इस स्मारक को खोला जाना उचित नहीं होगा। जिलाधिकारी ने बताया कि अभी आगरा की परिस्थितियां अनुकूल नहीं हैं। इसलिए कोई भी खतरा मोल नहीं लिया जा सकता है। जिला प्रशासन की प्राथमिकता कोविड से लोगों को बचाने की है। इसलिए ताजमहल सहित तीनों स्मारक नहीं खोले जा रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper