600 करोड़ के घोटाले में बीजेपी के पूर्व मंत्री जनार्दन रेड्डी गिरफ्तार

बेंगलुर। ऐम्बिडेंट ग्रुप के कथित रिश्वत केस के संबंध में सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने खनन कारोबारी जी. जनार्दन रेड्डी और उनके करीबी सहायक अली खान को गिरफ्तार किया। बता दें कि 600 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी मामले में फरार चल रहे खनन कारोबारी जी जनार्दन रेड्डी शनिवार को अपराध शाखा के सामने पूछताछ के लिए पहुंचे थे। अपराध शाखा ने उन्हें 11 नवंबर तक पेश होने के लिए नोटिस जारी किया था। रेड्डी एक पोंजी स्कीम में कथित तौर पर करोड़ों के लेनदेन में वांछित चल रहे थे। वहीं उन्होंने अपने खिलाफ लगे आरोपों को ‘राजनीतिक साजिश’ करार दिया है।

गौरतलब है कि शनिवार को जनार्दन रेड्डी अपने वकीलों के साथ एक कार में सीसीबी कार्यालय पहुंचे। रेड्डी के करीबी अली खान भी पूछताछ के लिए पुलिस के समक्ष पेश हुए। संयुक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने बताया कि रेड्डी से शनिवार शाम चार बजे पूछताछ शुरू की गई जो रातभर चली। जबकि अली खान को संक्षिप्त पूछताछ के बाद घर जाने दिया गया क्योंकि वह अंतरिम जमानत पर हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस उचित समय पर उचित कार्रवाई करेगी।

इससे पहले जनार्दन रेड्डी ने अज्ञात स्थान से एक वीडियो संदेश जारी कर सीसीबी के समक्ष पेश होने की घोषणा की। यह संदेश टीवी चैनलों पर प्रसारित भी किया गया। इसमें उन्होंने साफ किया कि वह फरार नहीं हैं और न ही हैदराबाद में हैं। वह शहर (बेंगलुरु) में ही हैं। उन्हें भागने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। पुलिस के पास उन्हें गलत साबित करने के लिए कोई दस्तावेज नहीं है। पुलिस मीडिया को गुमराह कर रही है। कर्नाटक की भाजपा सरकार में मंत्री रहे जनार्दन रेड्डी ने कहा कि वह बिल्कुल भी घबराए हुए नहीं हैं क्योंकि न तो पुलिस की एफआइआर में उनका नाम है और न ही उन्हें कोई नोटिस जारी किया गया था। अब पुलिस ने नोटिस जारी किया है तो वह नोटिस के मुताबिक शनिवार को सीसीबी में पेश हो रहे हैं। सीसीबी ने उन पर घोटाले के आरोपितों को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की जांच से बचाने का आरोप लगाया है। इससे पहले अपराध शाखा ने रेड्डी के बेल्लारी स्थित आवास पर छापेमारी भी की थी।

बता दें कि शुक्रवार को शहर की एक अदालत ने उन्हें अग्रिम जमानत प्रदान करने से इन्कार कर दिया था। इसके अलावा वह पहले से करोड़ों रुपये के खनन घोटाले में जमानत पर हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper