70 साल के बुजुर्ग ने कलेक्टर से कहा- पीवी सिंधु से मेरी शादी कराओ

नई दिल्ली: बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु अपने खेल से भारत का नाम रोशन कर रही है. अपने प्रदर्शन से उन्होंने लाखों दिलों को जीत लिया है. वहीं एक 70 वर्षीय बुजुर्ग उनसे शादी करना चाहता है और अपनी ये ख्वाहिश पूरी करने के लिए वो क्राइम तक करने को तैयार है.

दरअसल तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले में मलयसामी 70 साल पीवी सिंधु से शादी करना चाहते है. इसके लिए उन्होंने जिला कलेक्टर को एक प्रार्थना पत्र भी दिया है. अपने प्रार्थना पत्र में मलयसामी ने लिखा है कि, अगर उसकी शादी नहीं कराई गई तो वे सिंधु को किडनैप कर शादी कर लेगा.

घटना जिला कलेक्टर द्वारा आयोजित साप्ताहिक बैठकों के दौरान हुई. जहां जनता अपनी शिकायत और सुझाव कलेक्टर को बताते हैं. कलेक्टर कार्यालय पहुंचे मलयसामी ने पीवी सिंधु और खुद की फोटो के साथ एक पत्र लिखा है. जिसमें बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु से शादी की बात लिखी है.

उन्होंने कहा, वह सिंधु के करियर की सफलता से प्रभावित है. वह उससे शादी करना चाहते हैं. अजब बात ये भी है कि मलयसामी ने अपने पत्र में दावा किया है कि उसकी आयु सिर्फ 16 साल है, उसका जन्म 4 अप्रैल 2004 को हुआ है. मलयामी ने यह भी कहा कि जब पी. वी. सिंधु केवल 16 साल की थी तभी से उनको पसंद है. मैं उनके करियर से बहुत प्रभावित हूं और अब मैं उन्हें अपना साथी बनाना चाहता हूं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper