8 दिसंबर से फिर मौसम लेगा करवट, दो-तीन दिन आसमान पर रहेगा बादलों का कब्जा

लखनऊ: दो दिन से निकली रही तेज धूप ने फिलहाल ठंड़ को बाय–बाय कर दिया जरूर है लेकिन यह मजा केवल दो से तीन दिनों का ही है। मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि आठ जनवरी से मौसम फिर से खराब हो जाएगा। आठ को बरसात की संभावना है। इसके बाद भी दो से तीन दिनों तक आसमान पर बादलों का कब्जा रहेगा। आठ के बाद से तापमान में गिरावट होगी। तापमान कम जरूर होगा लेकिन कड़ाके की ठंड़क के लौटने की संभावना अब ना के बराबर है। रविवार को सुबह नौ बजे तक सर्दी का असर रहा लेकिन धूप निकलते ही ठंड़ी से लोगों को राहत मिल। दिन की तेज धूप ने बरसात के बादी सर्दी के असर को काफी हद तक कम कर दिया है।

गुरूवार की रात और शुक्रवार की बरसात से सर्दी का असर धीरे कम हो रहा है। सबुह शाम राजधानी का मौसम ठंड़ा जरूर चल रहा है लेकिन शीत लहर का असर पूरी तरह से समाप्त हो गया है। रविवार की सुबह कुहरे का असर काफी कम हो गया। तेज धूप के चलते मौसम काफी हद तक सही हुआ है। दिन में तेज हवा के कारण शाम होते ही सर्दी फिर शुरू हो गयी। तेज धूप से तापमान भी सही हो गया है। दिन का तापमान २१ डि़ग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। इसी तरह न्यूनतम तापमाप १२.१ डि़ग्री रिकार्ड़ किया गया। यह सामान्य से पांच डि़ग्री अधिक रहा। मौसम विभाग के निदेशक जे पी गुप्ता के मुताबिक सात जनवरी तक आमतौर पर मौसम साफ रहेगा।

आठ जनवरी से मौसम फिर से करवट लेगा और बादलों की आवाजही के साथ बरसात भी हो सकती है। प्रमुख शहरों का एक्यूआई शहर एक्यूआई वायु गुणता ५ जनवरी लखनऊ १८६ माड़रेट कानपुर ४१ खराब बनारस १५२ माड़रेट गाजियाबाद ३६० अत्यंत खराब नोएड़ा ३४२ अत्यंत खराब राजधानी का एक्यूआई शाम ७.५० तालकटोरा अलीगंज लालबाग गोमतीनगर २५१ १६७ १९९ १४९ गोमतीनगर की हवा सबसे बेहतरीन लखनऊ। तीन दिन पहले हुई बरसात के बाद राजधानी के वायु प्रदूषण में लगातार सुधार हो रहा है। बरसात के तीसरे दिन भी २१ प्वाइंट का सुधार हुआ है। महज तीन में लखनऊ के एक्यूआई में १४३ प्वाइंट की कमी आयी है। रविवार को लखनऊ का एक्यूआई १८६ तक आ गया है। वायु प्रदूषण के मानकों में इसे माड़रेट या मध्यम कहा जाता है।

पर्यावरण विशेषज्ञों का कहना है कि हवा में तेजी इसी तरह बनी रही तो एक्यूआई में और सुधार होगा। बरसात से पहले राजधानी का एक्यूआई अत्यंत खराब स्तर पर बना हुआ था। गुरूवार की रात व शुक्रवार को हुई बरसात के बाद हवा में काफी सुधार आया है। लखनऊ के साथ ही कानपुर‚ बनारस व एनसीआर क्षेत्र के जनपदों के वायु प्रदूषण में भी सुधार आया है। रविवार को लखनऊ का एयर क्वालिटी इंडे़क्स २०५ तक आ गया है। वायु प्रदूषण के मानकों में इसका स्तर माध्यम कहा जाता है। लखनऊ के बाद बनारस की भी हवा भी अत्यंत खराब से सुधरकर माड़रेट तक आ गयी है। यहां का एक्यूआई १५२ नापा गया है।

कानपुर की भी हवा में गुणात्मक सुधार दर्ज किया गया। यहां का एक्यूआई २४१ पाया गया है। इसी तरह नोएड़ा का एक्यूआई ३४२ तथा गाजियाबाद का एक्यूआई ३६० रिकार्ड़ किया गया है। राजधानी में गोमती नगर का एक्यूआई सबसे बेहतर हो गया है। रविवार को यहा का एक्यूआई १४९ तक आ गया है। वायु प्रदूषण के मानकों में इस गुणवत्ता का बेहतरीन कहा जाता है। इसी तरह लालबाग क्षेत्र में एक्यूआई १९९‚ अलीगंज में १६७ तक पहुंच गया है। आठ जनवरी को फिर बरसात की संभावना लखनऊ का अधिकतम तापमान २१ डि़ग्री सेल्सियस (सामान्य) न्यूनतम तापमान १२.१ (सामान्य से पांच डि़ग्री अधिक)

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper