पालघर: कारखाने में लगी भीषण आग, 3 की मौत

पालघर: महाराष्ट्र में गुरुवार देर रात एक सरकारी औद्योगिक एस्टेट की रासायनिक कंपनी में तेज धमाके के बाद आग लगने से तीन लोगों की मौत हो गई जबकि 15 घायल हो गए। पालघर पुलिस नियंत्रण कक्ष के अधिकारी प्रमोद पवार ने कहा कि गुरुवार रात 11.15 बजे के आसपास रासायनिक कंपनी नोवाफेनी स्पेशलिटीज प्राइवेट लिमिटेड (एनएसपीएल) में जोरदार धमाका हुआ।

पवार ने बताया कि धमाका इतना शक्तिशाली था कि इसकी गूंज 10 किलोमीटर तक के दायरे में सुनी गई। घर और इमारतें हिल गईं और घरों की खिड़कियों के शीशे तीन किलोमीटर तक के दायरे में टूटकर बिखर गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया, “धमाके की आवाज एक बड़े बम के फटने की तरह थी और यह तब हुआ जब कई लोग रात में सोने की तैयारी कर रहे थे।”

कई लोगों ने इसे गलती से भूकंप मान लिया और घरों से निकलकर सड़कों पर आ गए और वहीं घंटों बैठे रहे। पालघर के पुलिस अधीक्षक मंजूनाथ शिंगे ने मीडिया को बताया, “सुबह तलाशी अभियान के दौरान इनमें से एक कारखाने आरती इंडस्ट्रीज में तीन अज्ञात शव मिले।” उन्होंने कहा, “हमें और लोगों के हताहत होने का अंदेशा है। बचाव और तलाशी अभियान अभी चल रहा है। हालांकि आग अभी भी धधक रही है, लेकिन इस पर काबू पा लिया गया है।”

उन्होंने कहा कि सूचना मिलते ही घटनास्थल के लिए दमकल और आपदा टीमें रवाना हो गईं। आग ने देखते ही देखते पांच अन्य रसायनिक कंपनियों को भी चपेट में ले लिया। आग की लपटें बगल के कारखानों आरती ड्रग्स, प्राची फार्मास्युटिकल्स, भारत रसायन, यूनिमेक्स केमिकल्स और अन्य इकाइयों में फैल गई। एनसीपीएल फैक्ट्री के परिसर में आग बुझाने का काम जारी है। शिंगे ने कहा कि मृतकों की पहचान पिंटू के. गौतम, जानू अदारिया और आलोक नाथ के रूप में हुई है। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper