99% लोग नहीं जानते ट्रेन के पीछे बने ‘X’ के निशान का मतलब….

 

भारतीय रेल हमारे देश में ट्रासंपोर्ट का सबसे बड़ा एक प्रमुख साधन है जिसके चलते ये हमारे देश की जान और शान हैं, भारतीय रेल लोगो को अपने गंतव्य तक लाने और पहुचने के अलावा माल ढुलाई में भी काफी अहम भूमिका निभाती है. दरअसल भारतीय रेल अपने अंदर कई राज समेटे हुए है। जिन्हें देखरकर हर किसी को जानने की काफी जिज्ञासा होती है. एक ऐसा ही राज ट्रेन के सबसे आखिरी कोच के पीछे ‘X’ का निशान है. हर कोई इसे जानना चाहता है की आखिर क्यों होता है ये X का निशान आखिर इसके पीछे क्या कारण हैं और इसे क्यों बनाया जाता है। तो चलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको बताते है इसका राज???

आपने काई बार देखा होगा कि रेलगाड़ी के आखिरी बोगी के पीछे ‘X’ का काफी बड़ा सा निशान बना होता है। लेकिन ये निशान केवल भारत में चलने वाली सभी पैसेंजर ट्रेनों के पीछे ही बना होता है. और ट्रेन के अंत में बने ये निशान मुख्यतः सफेद और पीले रंग के होते हैं। दरअसल भारतीय रेल के नियमों के मुताबिक कहा जाता है की ये निशान सभी सवारी गाड़ियों के अंत में होना अनिवार्य है। इसके साथ ही आपने कई ट्रेनों पर LV भी लिखा देखा होगा। इसके अलावा ट्रेन के पीछे एक लाल रंग की ब्लिंक करने वाली बत्ती भी काई बार देखि होगी।

तो अब हम आपको बताते है की ‘X’ के पीछे का राज़, दरअसल इसेक साथ साथ एक बोर्ड और भी लगा होता है जिसपर LV लिखा होता है। एक्चुअल में LV का फुल फॉर्म ‘last vehicle’ है जिसका मतलब है आखिरी डिब्बा। ‘X’ के निशान के साथ-साथ LV रेल कर्मचारियों को इस बारे में सूचना देता है कि वह रेल का आखिरी डिब्बा है।

अब मान लो यदि किसी मामले में ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर इन दोनों में से कोई भी संकेत नहीं है तो इसका मतलब है की ये एक आपातकालीन स्थिति है। ऐसे मामले में ट्रेन के आखिरी कुछ डिब्बे बाकी ट्रेन से अलग हो जाती है। जिसे देखते ही रेलकर्मी अपने-अपने काम में लग जाते हैं

इसके अलावा ट्रेन के पीछे जो लाल रंग की चमकीली ब्लिंक लाइट होती है वो ट्रैक पर काम कर रहे कर्मचारियों को निर्देश देती है कि ट्रेन उस जगह से निकल चुकी है, जहां वे काम कर रहे होते हैं। दरअसल ऐसा होता ही की कई बार खऱाब मौसम और घने कोहरे के चलते ट्रेन को साफ देख पाना काफी मुश्किल होता है। ऐसी स्थिति में ये लाइट कर्मचारियों की काफी मदद करती है। इसके साथ ही ये लाइट पीछे से आ रही ट्रेन के लिए भी इशारा करती है कि उसके आगे एक और भी ट्रेन है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper