मैराथन से होने वाली आय सेना को दान देगा अदाणी समूह

मुंबई: अदाणी अहमदाबाद मैराथन (एएएम) का चौथा संस्करण 29 नवंबर, 2020 की अपनी निर्धारित तिथि पर ही वर्चुअल फॉर्मेट में आयोजित किया जाएगा। कोविड के प्रकोप के कारण पैदा हुए व्यवधानों को देखते हुए, #Run4OurSoldiers का इवेन्‍ट रिमोट से आयोजित किया जायेगा, जिसमें प्रतिभागियों की जीपीएस ट्रैकिंग शामिल है।

इसके पहले के संस्करणों की तरह ही, इस संस्‍करण के लिए किये गये पंजीकरण से हुई 100% आय भारतीय सशस्त्र बल के कल्याण के लिए दान की जाएगी। जाने-माने अंतरराष्ट्रीय एथलीट और कोच, नोरी विलियम्सन को एएएम 2020 के लिए रेस डायरेक्टर नियुक्त किया गया है। एएएम 2020 अब भारत के शीर्ष-4 मैराथनों में से एक है, जिसमें पिछले तीन वर्षों में 30,000 से अधिक धावक भाग ले चुके हैं।

पहली बार के वर्चुअल अनुभव को लेकर धावकों की चिंता को देखते हुए, धावकों को मैराथन के दिन के अनुभव हेतु उनकी तैयारियों के लिए प्रेरित करने के उद्देश्‍य से एएएम क्रमशः सितम्बर और अक्टूबर के अंत में दो बिल्ड-अप वर्चुअल इवेन्‍ट का आयोजन करेगा। कोविड-19 के कारण पैदा हुए खतरों को, विशेष रूप से मोटापे, मधुमेह और उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों की समस्‍याओं को देखते हुए, 5 किमी और 10 किमी ट्रायल रन न केवल धावकों को बेहतर परिणाम देने में मदद करेंगे, बल्‍कि उन्हें महामारी के खिलाफ बरती जाने वाली सावधानियां भी बतायेंगे।

15 अगस्त, 2020 से शुरू होने वाले पंजीकरण के साथ, इच्छुक प्रतिभागियों को वेबसाइट www.ahmedabadmarathon.com पर और विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के माध्यम से इस घटना के बारे में विस्तृत जानकारी मिल जाएगी। हर साल नवंबर के अंतिम रविवार को होने वाली अदाणी अहमदाबाद मैराथन वीकेंड के फाइनल वर्चुअल इवेंट के लिए, रेस कैटेगरी पहले के संस्करणों के अनुसार ही फुल मैराथन, हाफ मैराथन, 10 किमी और 5 किमी के फन रन में विभाजित है। आयोजक स्वास्थ्य और सुरक्षा को लेकर व्यापक दिशानिर्देश भी साझा करेंगे और प्रतिभागियों को कोविड-19 को देखते हुए संबंधित राज्य सरकारों द्वारा उठाए गए एहतियाती उपायों का भी पालन करना होगा।

इवेन्‍ट में विजेताओं को पदक और सर्टिफाइड मान्यता प्रदान की जाएगी, और दौड़ में शामिल सभी प्रतिभागियों को टी-शर्ट और सर्टिफिकेट ऑफ कम्‍प्‍लिशन मिलेंगे। सशस्त्र बलों के प्रतिभागियों के लिए पंजीकरण मुफ्त रहेगा। प्रणव अदाणी, एमडी-एग्रो, ऑयल एंड गैस ने कहा कि “कोविड-19 के कारण पैदा हुए संकट ने स्वस्थ राष्ट्र के निर्माण की आवश्यकता पर फिर से जोर दिया है। दौड़ना हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने और हमारी प्रतिरक्षा बढ़ाने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए और भारतीय सशस्त्र बल के कल्याण के लिए अदाणी ग्रुप के दृष्टिकोण के प्रति प्रतिबद्ध रहते हुए, हमने प्लेटफ़ॉर्म को वर्चुअल स्पेस में ले जाकर एक तकनीक-केन्‍द्रित छलांग लगाई है। हमारा #Run4OurSoldiers इवेन्‍ट किसी भी वजह से नहीं रुक सकता है।”

रेस डायरेक्टर नोरी विलियम्सन ने कहा कि “रेस ऐप और पोस्ट-इवेंट परिणामों की कई विशेषताएं हैं जो धावकों को वर्चुअल इवेन्‍ट के दौरान और उसके बाद में, उनके परफॉरमेंस की योजना बनाने और उसकी निगरानी करने की सुविधा प्रदान देगा। यह प्रत्येक धावक को वर्चुअल इवेन्‍ट में उनके परफॉरमेंस के बारे में पूरी तरह से नया दृष्टिकोण प्रदान करेगा। पहले इवेंट से ही धावकों के लिए अपनी दूसरी वर्चुअल रेस और फिर 29 नवंबर के वीकेंड पर आयोजित होने वाले अदाणी मैराथन के लिए कोचिंग और ट्रेनिंग संबंधी सलाह लेना संभव होगा।’’उन्होंने कहा कि “यह व्‍यवस्‍था धावक को दौड़ के दिन से तीन महीने की अवधि के दौरान सर्वोत्तम संभव अनुभव देने और ऐसा मेकेनिज्‍म प्रदान करने के लिए है जो दौड़ से पहले की प्रेरणा, वास्तविक समय की दौड़ का अनुभव तथा परफॉरमेंस की सार्थक तुलना और दौड़ के बाद की मान्यता एवं जश्‍न को साकार करेगा।”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper