भाजपा की ऐतिहासिक जीत से विकास के नए आयाम स्थापित होंगे : डा0 पाण्डेय

लखनऊ : भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने सहकारी समितियों के नए सभापतियों एवं उपसभापतियों को विजय पर बधाई देते हुए कहा है कि डेढ़ दशक के बाद पहली बार सहकारी समितियों में लोकतांत्रिक पद्धति से निष्पक्ष चुनाव सम्पादित हुए। प्रारम्भिक सहकारी समितियों में आवास, उद्योग, हथकरघा एवं वस्त्र उद्योग, रेशम, मत्स्य, उद्यान, खाद्य प्रसंस्करण, खादी एवं ग्रामोद्योग, गन्ना विभाग समिति निर्वाचन में भाजपा की ऐतिहासिक जीत से विकास के नए आयाम स्थापित होंगे।

डा0 पाण्डेय ने कहा कि मोदी सरकार एवं योगी सरकार किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प के साथ काम कर रही है। भाजपा कार्यकर्ताओं की विजय से प्रारम्भिक सहकारी समितियां इस संकल्प को पूरा करने में महती भूमिका निभाएगी। इसके साथ उन्होंने इस बात पर अपनी ख़ुशी जाहिर की है कि पार्टी ने 80 फीसदी से ज्यादा पदों पर अपना परचम लहराकर एक नया इतिहास रचा है। उन्होंने कहा है कि सहकारी समितियां सपा के इशारे पर घालमेल के खेल में लिप्त होकर विकास कार्यो से कोसों दूर हो चुकी थी, लोकतांत्रिक पद्धति से प्रारम्भ हुई चुनावी प्रक्रिया से छटपटाती सपा के चेहरे पर उलझन छलक रही थी।

लेकिन सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा के निष्पक्ष, लोकतांत्रिक चुनाव के संकल्प ने सपाई मंसूबों पर पानी फेर दिया और अस्सी फीसदी से अधिक पदों पर विजय पताका फहराते हुए भाजपाई परचम के नए इतिहास का सृजन किया। इसके लिए सहकारी चुनाव प्रभारी प्रदेश महामंत्री विद्यासागर सोनकर तथा उनकी टीम के कुशल चुनाव प्रबंधन पर बधाई और सहकारी समितियों के द्वारा जनकल्याण कार्यो से ग्रामीण जनजीवन को खुशहाल बनाने के लिए अग्रसर समितियों को शुभकामनाएं दी हैं। साथ ही भाजपा कार्यकर्ताओं को सहकारी समितियों के माध्यम से जनसेवा के कार्य में जुटने के आदेश दिए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper