सीबीआई ने कांग्रेस विधायक और गहलोत के ओएसडी से की पूछताछ

नयी दिल्ली. सीबीआई ने राजस्थान के पुलिस अधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई की चुरु में 23 मई को कथित आत्महत्या के मामले में कांग्रेस विधायक कृष्णा पूनिया और राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ओएसडी, देव राम सैनी से मंगलवार को पूछताछ की। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली से सीबीआई की विशेष अपराध शाखा की एक टीम राजगढ़ के थाना प्रभारी (एसएचओ), विश्नोई की मौत के सिलसिले में बयान दर्ज करने के लिए जयपुर में मौजूद है। उनका शव चुरु में अपने आधिकारिक निवास में पंखे से लटका मिला था। अधिकारियों ने कहा कि टीम ने सैनी से करीब दो घंटे और पूनिया से लगभग डेढ़ घंटे उनके आवास पर पूछताछ की।

अधिकारियों ने कहा कि ओलंपियन पूनिया से इस मामले में दूसरी बार पूछताछ की गई है। इससे पहले सोमवार शाम को एजेंसी ने जयपुर में उनके आवास पर उनसे लगभग तीन घंटे पूछताछ की थी। भाजपा और बसपा के नेताओं का आरोप है कि पूनिया अधिकारी पर दबाव बना रही थीं, जिसके चलते उन्होंने यह कदम उठाया। हालांकि सादुलपुर से विधायक पूनिया इस आरोप से इनकार करती रही हैं। यह कदम ऐसे समय में उठाया जा रहा है जब राजस्थान की गहलोत नीत कांग्रेस सरकार सचिन पायलट की बगावत और उनको उपमुख्यमंत्री पद से बर्खास्त किए जाने के बाद सियासी संकट का सामना कर रही है। हालांकि, सूत्रों ने स्पष्ट किया है कि एजेंसी इस मामले में पेशेवर तरीके से जांच कर रही है जो उसे खुद राज्य सरकार ने सौंपी है।

सूत्रों ने कहा कि मामले के विभिन्न पहलुओं को जानने के लिए लोगों से पूछताछ की जा रही है और इसका यह मतलब नहीं है कि वे आरोपी हैं क्योंकि अंतिम तस्वीर जांच पूरी होने के बाद ही साफ हो पाएगी। राजस्थान सरकार ने मामले की जांच सीबीआई को सौंपी है। उन्होंने बताया कि विश्नोई के भाई ने राजस्थान पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उनपर अत्यधिक दबाव था जिस कारण उन्होंने यह कदम उठाया। विश्नोई के पास से दो सुसाइड नोट बरामद किए गए थे- एक उनके माता-पिता के नाम और दूसरा जिले के पुलिस अधीक्षक के नाम। पुलिस अधीक्षक के नाम लिखे सुसाइड नोट में, विश्नोई ने कहा कि वह उन पर डाले जा रहे दबाव को नहीं झेल पा रहे हैं। इसमें उन्होंने यह भी कहा था कि उन्होंने राजस्थान पुलिस को अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की। कथित व्हाट्सऐप चैट का एक स्क्रीन शॉट भी वायरल हो गया है जिसमें विश्नोई अपने एक दोस्त से कह रहे हैं कि वह गंदी राजनीति में फंस गए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper