CM योगी ने रक्षाबंधन पर महिलाओं को दिया बड़ा तोहफा, UPSRTC की बसों में दो दिन फ्री यात्रा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रक्षाबंधन के पर्व को देखते हुए महिलाओं को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सड़क परिवहन निगम (UPSRTC) की बसों में यात्रा करने वाली महिलाओं से रक्षा बंधन के त्योहार पर उनकी यात्रा के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। सीएम के इस ऐलान के बाद महिलाओं के बीच खुशी का माहौल है। अब वो असानी से अपने भाईयों को राखी बांधने के लिए एक जगह से दूसरे जगह आ जा सकेंगी।

योगी आदित्यनाथ
यूपी सरकार सरकार ने घोषणा की है कि त्योहार के दिन ज्यादातर महिलाएं यूपीएसआरटीसी की बसों से यात्रा करती हैं। ऐसे में यह निर्णय लिया गया है कि किसी भी मार्ग पर महिलाओं से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। इसके अलावा, महिलाएं भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर 10 अगस्त की मध्यरात्रि से 12 अगस्त की मध्यरात्रि तक यूपीएसआरटीसी की बसों में मुफ्त यात्रा कर सकती हैं।

परिवहन निगम के एक अधिकारी ने बतायाक रक्षाबंधन के अवसर पर उत्तर प्रदेश राज्य परिवहन निगम को राज्य की सभी महिलाओं की सुरक्षित यात्रा के लिए बसों में मुफ्त यात्रा सुविधा प्रदान की गई है। जो भी महिलाएं निगम की बसों से यात्रा करना चाहेंगी वह फ्री में एक जगह से दूसरे जगह तक आ जा सकती हैं। हालांकि ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ को चिह्नित करने के उद्देश्य से, यूपी के सीएम ने कहा कि महिलाएं 10 अगस्त की मध्यरात्रि से 12 अगस्त की मध्यरात्रि तक 48 घंटों के लिए मुफ्त यात्रा कर सकती हैं।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper