IAF बैंकाक और दुबई से एयरलिफ्ट कर ला रहा आक्‍सीजन कंटेनर, जल्‍द दूर होगी कमी

नई दिल्‍ली: कोरोना महामारी की दूसरी लहर में हर दिल लाखों की संख्‍या में कोरोना पॉजिटिव के नए केस सामने आ रहे हैं। हर शहर में मरीज की जान बचाने के लिए उनके घर वाले सिलेंडर लेकर आक्‍सीजन के लिए भटक रहे हैं। कई मरीजों की अब तक आक्‍सीजन न मिल पाने के कारण मौत हो चुकी है। जल्‍द से जल्‍द देश के सभी राज्‍यों में ऑक्‍सीजन की कमी दूर हो इसके लिए भारतीय वायु सेना युद्ध स्‍तर पर कार्य कर रही है।

मंगलवार को रक्षा मंत्रालय ने जानकारी दी कि भारतीय वायुसेना का एक और C17 विमान बैंकॉक से आक्‍सीजन के 4 खाली कंटेनरों को लेकर 27 अप्रैल 21 को सुबह पनागर में उतरा। वहीं IAF के C17 विमान ने 26 अप्रैल को दुबई से 6 खाली क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनरों को निकाला और उसी दिन पश्चिम बंगाल के पनागर में उतारा। IAF ने बड़ौदा से रांची तक 1 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर, पुणे से जामनगर के लिए 2 कंटेनर, भोपाल से जामनगर के लिए 2 कंटेनर, जयपुर से जामनगर के लिए 3 कंटेनर, इंदौर से 3, भोपाल से जामनगर और 26 पर हिंडन से पनागर के लिए 1 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर मंगवाए। ध्‍यान रहे क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर तरल अवस्था में ऑक्सीजन को अत्यधिक ठंडे तापमान में रखते हैं जिससे इसे पार करना आसान हो जाता

वहीं चीफ डिफेंस स्‍टाफ जनरल विपिन सिंह ने कहा सशस्त्र बलों को ऐसे मुश्किल समय में समयबद्ध तरीके से COVID शमन सुविधाएं बनाने में नागरिक प्रशासन का समर्थन करना चाहिए। इस कठिन समय पर समर्थन महत्वपूर्ण है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper