बार-बार लो बैटरी से हैं परेशान तो इस तरीके से घंटो बढ़ा सकते हैं बैकअप

द लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरो : अगर आपका मोबाइल फोन भी दिन भर यूज़ होता है और आप अपने फोन में लो बैटरी से परेशान हैं तो यह खबर आपके लिए है। हम आपको कुछ ऐसे तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके इस्तेमाल से आप अपने फोन की बैटरी की तेज खपत को कम कर सकते हैं। इतना ही नहीं इन तरीकों की मदद से आप घंटों अपनी बैटरी बैकअप को बढ़ा सकते हैं।

आपके स्मार्टफोन में या तो लिथियम आयन बैटरी होगी या फिर लिथियम पॉलिमर बैटरी। इन दोनों ही बैटरी में एक बात ध्यान देना जरूरी है कि, फोन को न तो पूरा चार्ज करें और न ही पूरे तरह से डिस्चार्ज होने दें। फोन की बैटरी को कभी भी 100 फीसदी तक चार्ज न होने दें, इसके अलावा इस बात का भी ख्याल रखें कि आपके फोन की बैटरी 20 फीसदी से कम न हों। अगर आप अपने फोन की बैटरी को ज्यादा चार्ज या ज्यादा डिस्चार्ज होने दे रहे हैं, तो इसका मतलब आप अपने फोन की बैटरी को खराब कर रहे हैं।

– अपने स्मार्टफोन की बैटरी को 90 फीसदी चार्ज होते ही उसे चार्जिंग प्वॉइंट से निकाल दें। इस बात का भी ध्यान दें कि जब आपके फोन की बैटरी 20 फीसदी के करीब हो, तो उसे चार्ज पर लगा दें।

– कई एप्स ने अपने लाइट वर्जन को लॉन्च किया है। उदाहरण के तौर पर फेसबुक ने अपने फेसबुक लाइट और फेसबुक मेसेंजर लाइट वर्जन को लॉन्च किया है। दरअसल लाइट वर्जन वाले ये एप आपके स्मार्ट फोन का डाटा और बैटरी दोनों ही कम इस्तेमाल करते हैं।

– अगर आपको लोकेशन ऑप्शन की जरूरत न हो, तो इसे बंद ही रखें। दरअसल लोकेशन सर्विस ऑन रहने पर आपका मोबाइल लगातार अपनी लोकेशन को अपडेट करता रहता है। इसके आपके फोन की रैम और बैटरी दोनों की खपत होती है।

– अगर आप गेम खेल रहे हैं, तो इस बात का जरूर ध्यान दें कि खेलते वक्त फोन को चार्ज न करें। अगर आप गेम खेलते समय फोन को चार्ज करेंगे तो आपका फोन गर्म होने लगेगा, इससे आपके फोन की बैटरी कमजोर होने लगती है।

– अपने स्मार्टफोन में उन एप्स को तुरंत डिलीट करें, जिनका इस्तेमाल आप नहीं करते हैं। इसके अलावा आप जिन एप्स का इस्तेमाल कर रहे हैं, उसे अपडेट करते रहें। बिना अपडेट किए एप्स आपके फोन को असुरक्षित तो रखते ही हैं, इसके अलावा आपके फोन की बैटरी को भी सोखते रहते हैं।

– अगर आपके फोन में ऑटो ब्राइटनेस का ऑप्शन इनेबल है, तो तुरंत इसे डिसेबल करें। ऑटो बाइट ऑप्शन अगल-बगल के वातावरण के हिसाब से आपके स्क्रिन की ब्राइटनेस को बार-बार एडजस्ट करता है, इससे आपका फोन एक्टिव तो रहता ही है साथ ही बैटरी की खपत भी जारी रहती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper