IND vs SL: कप्तान रोहित शर्मा ने बताया ऋषभ पंत को टीम की तरफ से कौन सी दो सलाह मिली हैं

बेंगलुरु: टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत अपने शॉट सिलेक्शन के लिए हमेशा से चर्चा में रहे हैं। अपने एग्रेसिव खेल के चलते वह कई बार सस्ते में विकेट गंवा चुके हैं, लेकिन इसी रवैये से खेलते हुए उन्होंने कई बार टीम इंडिया को मुश्किल से बाहर भी निकाला है। कप्तान रोहित शर्मा का मानना है कि पंत जिस तरह से बल्लेबाजी करते हैं, हमें उन्हें वैसे ही स्वीकार करना होगा। रोहित ने श्रीलंका के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज में क्लीनस्वीप करने के बाद कहा कि पंत से क्या कुछ करने के लिए कहा कहा है। रोहित ने यह भी बताया कि पंत से हालात और पिच को देखते हुए बल्लेबाजी करने के लिए कहा गया है। पंत को श्रीलंका के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज में प्लेयर आफ द सीरिज चुना गया।

‘पंत जैसा है वैसे ही हमें अपनाना होगा’
रोहित ने दूसरे टेस्ट के बाद कहा, ‘हमें पता है कि वह कैसे बल्लेबाजी करता है और एक टीम के रूप में हम उसे स्वाभाविक खेल दिखाने की फ्रीडम देना चाहते हैं। लेकिन उससे कहा गया है कि मैच की स्थिति और पिच को भी ध्यान में रखे।’ उन्होंने कहा, ‘वह बेहतर होता जा रहा है। कई बार ऐसा भी होता है कि आप सिर पीटने लगते हैं कि उसने ऐसा शॉट क्यों खेला लेकिन हमें उसे उसी रूप में स्वीकार करना होगा, जैसे वह खेलता है।’

’30-40 मिनट में खेल बदल सकते हैं पंत’
उन्होंने कहा, ‘वह ऐसा खिलाड़ी है जो आधा घंटे या 40 मिनट में मैच का नक्शा बदल सकता है। उसकी विकेटकीपिंग भी बेहतरीन है और हर मैच में उसके प्रदर्शन में सुधार आ रहा है। डीआरएस के उसके फैसले भी सटीक हो रहे हैं।’ टेस्ट कप्तानी के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘टीम में कुछ सीनियर खिलाड़ी हैं जो खेल को बखूबी समझते हैं और अपनी राय देते हैं। मेरी अपनी समझ है। कप्तानी के मामले में मेरा फलसफा यही है कि उस समय जो सही लगे, वही फैसला लो। मैं मैदान पर ही हालात का आकलन करता हूं।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper