अब ‘फिंगर प्रिंट’ ही नहीं चेहरे से भी होगा आधार का सत्यापन, बुजुर्गों को बड़ी राहत

नई दिल्ली: अंगुली की छाप खो चुके लोगों को अब आधार के जरिये सत्यापन में दिक्कत नहीं होगी। पहली जुलाई से ऐसे लोग अब चेहरे की पहचान के जरिये सत्यापन करा सकेंगे। हालांकि यह सुविधा मौजूदा विकल्पों के साथ किसी एक को चुनने पर ही मिलेगी। यूआइडीएआइ ने सोमवार को कहा जिनकी अंगुली की छाप किसी बीमारी या अन्य वजहों से मिट गई है और बायोमीटिक सत्यापन नहीं करवा पा रहे हैं, वे अब इस विकल्प का इस्तेमाल कर पाएंगे। हालांकि चेहरे के जरिये पहचान सत्यापित कराने के लिए फिंगर प्रिंट, आइरिस या ओटीपी में से किसी एक विकल्प को भी चुनना होगा।

फिलहाल फिंगर प्रिंट और आइरिस के जरिये ही सत्यापन की सुविधा है। यूआइडीएआइ का यह एलान सुप्रीम कोर्ट में आधार पर सुनवाई के ठीक पहले आया है। इस मामले में सुनवाई बुधवार से शुरू हो रही है। 1चेहरे के जरिये व्यक्ति की पहचान सत्यापित करने के लिए यूआइडीएआइ सभी एजेंसियों को सॉफ्टवेयर उपलब्ध कराएगी। इससे चेहरे की फोटो ली जाएगी और उसे आधार के डेटा से सत्यापित किया जाएगा। हालांकि यूआइडीएआइ ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि इन वजहों से जिनका आधार पंजीकरण नहीं हो पा रहा है, उनके लिए यह सुविधा कब शुरू होगी।

इसे भी पढ़िए: जम्मू एवं कश्मीर में शीतलहर जारी, कारगिल में पारा शून्य से 19 डिग्री नीचे

गौरतलब है कि उम्र के साथ अंगुलियों के निशान बदल जाते हैं या वे मिट जाते हैं और ऐसे में सत्यापन के समय सही इंप्रेशन नहीं आ पाता है। इतना ही नहीं उम्र बढ़ने के साथ ही कुछ लोगों के हाथों में कंपन होने लगता है और ऐसी स्थिति में भी इंप्रेशन सही ढंग से नहीं आ पाता है जिसके चलते संबधित कर्मचारी उन्हें आधार से मिलने वाले लाभ देने से मना कर देते हैं।

खासकर बैंकों में ऐसे मामलों में बुजुर्गो को खासी परेशानी का समाना करना पड़ता है। इन मामलों में देखा गया है कि सरकारी अधिकारी और कर्मचारी इस सच्चाई को नहीं समझते कि उम्र बढ़ने के साथ अंगुलियों के निशान मिट जाते हैं, कभी कभी बदल जाते हैं या हल्के पड़ जाते हैं। यही नहीं बुजुर्गो को सिम खरीदने में भी दिक्कत होती थी। क्योंकि ज्यादातर कंपनियां अब थंब इंप्रेशन से ही सिम देती है. ऐसे में प्रियजनों से बात करने में भी दिक्कत होती थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper