2 लाख लोगों को IT ने थमाई नोटिस, खाते में 15 लाख से अधिक रकम जमा करने का मामला

नई दिल्ली : आयकर विभाग ने नोटबंदी के दौरान अपने अकाउंट में 15 लाख से ज्यादा की रकम जमा करने वाले करीब 2 लाख लोगों को नोटिस जारी किया है। सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज (CBDT) के चेयरमैन सुशील चंद्रा के मुताबिक, नोटबंदी के एलान के बाद कई लोगों के अकाउंट में 15 लाख से ज्यादा की रकम जमा की, लेकिन कोई रिटर्न फाइल नहीं किया गया। जिसके चलते विभाग ने दिसंबर और जनवरी में ऐसे करीब 1.98 लाख अकाउंट होल्डर्स को नोटिस भेजा है।

3 हजार लोगों पर केस दर्ज

चंद्रा ने एक न्यूज एजेंसी को बताया कि पिछले 3 महीने में टैक्स चोरी, देर से टैक्स फाइल करने वाले और हेराफेरी करने वाले करीब 3 हजार लोगों पर केस दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि डिजिटाइजेशन को बढ़ावा देने के लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ई-असेसमेंट (डिजिटल तरीके से कर निर्धारण) पर फोकस कर रहा है।इस साल ई-असेसमेंट को ट्रायल के तौर पर लागू किया गया है। पिछले 3 महीनों में ही करीब 60 हजार ई-असेसमेंट्स किए गए हैं। आने वाले महीनों में इसके बढ़ने की उम्मीद बताई जा रही है।

क्या है ई-असेसमेंट?

ई-असेसमेंट के तहत कोई भी शख्स अपना टैक्स ऑनलाइन ही फाइल कर सकता है। जिससे उन्हें बार-बार इनकम टैक्स ऑफिस के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।

कब हुआ था नोटबंदी का एलान?

मालूम हो कि 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का एलान किया था। जिसके बाद 500 और 1000 के नोट करेंसी के चलन से बाहर हो गए थे। नोटबंदी के दौरान सरकार ने लोगों को नोट बदलने के लिए 31 दिसंबर तक का वक्त दिया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper