Janta Curfew: ‘मैं प्रतिज्ञा करता हूं कि 22 मार्च को ‘जनता कर्फ्यू’ का पालन करूंगा’

लखनऊ: देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र भाई मोदी के आह्वान पर हर बार देशवासी साथ खड़े दिखाई दिये। इस बार भी ‘कोरोना वायरस’ के संकट से उबारने पर देशवासियों को दिए उनके संदेश को आपार समर्थन मिल रहा है। उत्तर प्रदेश में शुक्रवार सुबह से ही पीएम मोदी की अपील पर 22 मार्च को ‘जनता कर्फ्यू’ करने की प्रतिज्ञा लेने की होड़ लगी है। स्वयंसेवी संस्था से लेकर व्यक्तिगत स्तर पर सोशल मीडिया के प्लेटफार्म पर पीएम मोदी के अपील को बड़े स्तर पर समर्थन मिल रहा है।

समाजसेवी नरेन्द्र सिंह लिखते हैं कि ‘प्रतिज्ञा करता हूं कि मैं 22 मार्च दिन रविवार को प्रात:7:00 से रात्रि 9:00 त​क जनता कर्फ्यू का पालन करुंगा और सायं 5:00 बजे सभी कोरोना सेनानियों को ताली और थाली आदि बजाकर आभार प्रकट करूंगा। ‘भारत माता की जय’। इसके साथ ही दूसरे से भी जनता कर्फ्यू पालन करने की अपील की है। हम भी बचें, देश को बचाएं, जग को बचाएं। राष्ट्रहित सर्वोपरी।

सहारनपुर के बच्चे ऐशीत नैब, खुशी नैब, मान्य नरूला व प्राची ने तो एक कदम आगे जाकर गीतों के जरिये मार्मिक अपील की है। कोरोना-कोरोना, कोरोना का मात तुम दो ना.. इस पर ताली की थपकी, कोरोनो से मिलकर लड़ना, थोड़ी सी सावधानी कर लो… की पंक्ति के साथ सावधानी व सतर्कता की अपील की है।

गौरतलब है​ कि कोरोना वायरस के बचाव के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने 19 मार्च को रात्रि 8 बजे देश के नाम संदेश दिया था। उन्होंने प्रत्येक भारतवासियों को सजग व सतर्क रहने का आह्वान किया था। इस वैश्विक महामारी से बचने के लिए ‘हम स्वस्थ तो जग स्वस्थ’ का मंत्र भी दिया था। इसके साथ ही 22 मार्च को प्रात:7:00 से रात्रि 9:00 त​क जनता कर्फ्यू लगाने का आह्वान किया है तथा सायं 5:00 बजे सभी कोरोना सेनानियों को ताली और थाली आदि बजाकर आभार प्रकट करने की अपील की है।

उत्तर प्रदेश सूचना निदेशालय से सेवानिवृत पूर्व उप निदेशक दिनेश गर्ग एक दिन के कर्फ्यू का महत्व बताते हुए लिखते हैं कि ‘कोरोना वायरस किसी सतह पर लगभग 9 से 12 घण्टे जीवित रहता है। और कर्फ्यू का समय सुबह 7 से रात 9 बजे तक। मतलब 14 घण्टे और फिर रात मतलब मोटे तौर पर 24 घण्टे अर्थात 24 घण्टे लोग घरों में रहेंगे तो वायरस कांटेक्ट खत्म हो जाएगा और सोशल ट्रांसमिशन का खतरा बहुत कम हो जाएगा। यह बहुत बुद्धिमानी का निर्णय है। आप सबसे निवेदन है कि कृपया इस मुहिम में अपना सहयोग दें। यह एक माइलस्टोन साबित होगा।’

समाजसेवी राजकिशोर लिखते हैं कि प्रधानमंत्री का जनता कर्फ्यू का आइडिया शानदार है। यह एक ड्रिल सामान होगा, यदि निकट भविष्य में अधिक समय तक की आवश्यकता भी होगी…तो भी हम सभी इसके लिए तैयार हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper