जानिए क्यों चिनहट उपकेंद्र के एसडीओ साहब से मिलने के लिए चप्पलें घिस जाती हैं ?

अश्वनी श्रीवास्तव

लखनऊ : मध्यांचल विधुत वितरण विभाग के चिनहट उपकेंद्र का कोई पुरसाहल नहीं है. यहां आने वाले उपभोक्ताओं की समस्याओं का निदान दर्जनों चक्कर काटने के बाद भी नहीं होता है. जिसके चलते उपभोक्ताओं को अपने काम को लेकर रोजाना इस कार्यालय के चक्कर काटने पड़ते हैं. और तो और अगर संबंधित कार्यालय पर तैनात एसडीओ दीपक मिश्रा से इस बात की शिकायत करने उपभोक्ता जाते हैं, तो उनके कमरे में तैनात एक ठेके के कर्मचारी अमित से ही मुलाकात हो पाती है. नतीजतन उपभोक्ता को साहब के कार्यालय में न मिलने के कारण उलटे पांव वापस लौटना पड़ता है.

दरअसल उपभोक्ता सुबह, दोपहर और शाम को चक्कर लगाते-लगाते थक जाता है, लेकिन एसडीओ साहब अपनी कुर्सी पर ही नहीं मिलते हैं. इसको लेकर इस उपकेंद्र के उपभोक्ताओं में आक्रोश व्याप्त है. बताया जाता है कि इस उपकेंद्र के देंवा रोड पर सन्नाटे में होने के कारण यहां लेसा का कोई बड़ा अफसर भी उपभोक्ताओं की समस्याओं को सुनने के लिए कार्यालय में समय से नहीं बैठता.

जिसको लेकर उपभोक्ताओं को अपने काम को लेकर यहां के चक्कर लगाने पड़ते हैं. यही नहीं इस उपकेंद्र पर अपने बिजली के बिल का भुगतान करने आये एक उपभोक्ता का कहना है कि वह पिछले बीस दिनों से यहां भटक रहे हैं, लेकिन उनकी समस्या का निदान करने वाले एसडीओ साहब के आज तक उनको दर्शन ही नहीं हो सके.

गौरतलब है कि सूबे की कमान संभालते ही सीएम योगी ने अफसरों और उनके मातहत कार्यरत कर्मचारियों को समय से कार्यालय पहुँचने के निर्देश दिए थे. बावजूद इसके बिजली विभाग के अभियंता सीएम योगी के आदेश को भी ठेंगा दिखते हुए नजर आ रहे हैं. बताया जाता है कि साहब के कार्यालय में तैनात कर्मचारी से जब भी पूछा जाता है कि एसडीओ साहब कब आएंगे, तो उसके पास एक रटा रटाया जवाब यही रहता है कि अभी तो साइड पर गए हैं. बाद में आएंगे.

अब साहब कब आएंगे या नहीं आएंगे. इस बात का पता लग पाना भी मुश्किल होता है. आलम यह है कि दूसरों के घरों में रोशनी पहुँचाने वाला यह उपकेंद्र खुद ही अंधकार का शिकार है. पिछले पांच दिनों से इस उपकेंद्र की बिजली रोजाना कहीं गुल हो जाती है, तो कहीं सर्वर डाऊन रहता है. जिसके चलते न तो बिल ही उपभोक्ता को मिल पता है और न ही जमा हो सकता है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper