सरकार की लापरवाही से हुआ करोड़ों का नुक़सान, भीग गया खुले में पड़ा लाखों मीट्रिक टन गेहूं

भोपाल: प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज जारी अपने एक बयान में प्रदेश की शिवराज सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार की लापरवाही से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर ख़रीदा गया, खुले आसमान के नीचे पड़ा लाखों मीट्रिक टन गेहूं भीग गया है, जिससे करोड़ों का नुक़सान हुआ है। देश भर में निसर्ग तूफ़ान की चेतावनी व प्रदेश के कई हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी को भी सरकार ने नज़रअंदाज़ किया, जिससे यह नुक़सान हुआ है, इसकी ज़िम्मेदार सरकार है।

कमलनाथ ने बताया कि मध्य प्रदेश में इस वर्ष गेहूं की बंपर पैदावार हुई है। कोरोना महामारी के लॉकडाउन के कारण न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी इस बार 15 अप्रैल को देरी से प्रारंभ हुई। सरकार ने खरीदी को लेकर शुरू दिन से बड़े-बड़े दावे किए ,बड़े-बड़े आंकड़े जारी किए लेकिन वास्तविकता इसके विपरीत होकर सभी के सामने हैं।इस बार किसान अपनी उपज बेचने के लिए सबसे ज्यादा परेशान हुआ है।

कई खरीदी केंद्रों पर बारदानो की कमी रही, तुलाई की व्यवस्था नहीं रही, भंडारण की व्यवस्था नहीं रही, इससे समय पर खरीदी नहीं हो पाई। किसानो को सन्देश देकर बुला लिया गया और उनकी ख़रीदी कई-कई दिन तक नहीं की गयी, जिससे किसानों को कई-कई दिन तक कई किलोमीटर लंबी लाइनों में इस भीषण गर्मी व लू में लगना पड़ा। खरीदी की अव्यवस्थाओं से व भीषण गर्मी में लंबी लाइनों में लगने से होने वाले तनाव व अव्यवस्थाओं से 4 किसानों की मौत प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में हुई।जिसमें आगर मालवा में किसान प्रेम सिंह की ,देवास में किसान जयराम मंडलोई की ,अशोकनगर में किसान रामसिंह की व बैतूल में एक किसान श्रीनिवास की मौत हुई।

नाथ ने बताया कि देरी से 15 अप्रैल से प्रारंभ खरीदी 31 मई तक चली।इस अवधि में भी हजारों किसानों की उपज की खरीदी नहीं हो पाई।हमने सरकार से मांग की थी कि आज भी हज़ारों किसान ट्रैक्टर ट्राली में अपना गेहूं लेकर खरीदी केंद्रों के बाहर लाइन लगाकर खड़े है।खरीदी की तारीख को आगे बढ़ाया जाए। सरकार ने इंदौर ,भोपाल देवास, उज्जैन और शाजापुर के जिलों सहित कुल 350 केंद्रो के लिए खरीदी की तारीख 5 जून तक बढ़ायी लेकिन सरकार ने तारीख तो आगे बढ़ा दी लेकिन खरीदी केंद्र कम कर दिए , जिससे किसानो को और अधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper