बहन ने छात्रा को पिलाई नशीली कोल्डड्रिंक, भाई ने दोस्तों संग किया सामूहिक दुष्कर्म

लखनऊ: ब्यूटीशियन की ट्रेनिंग कर रही छात्रा को संचालिका ने कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया। बेहोशी की हालत में संचालिका की शह पर उसके भाई व दो दोस्तों ने छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। हैवानियत के दौरान आरोपितों ने मोबाइल पर वीडियो बना लिया। बदनामी के भय पर आरोपितों ने उसे धमकाया। हद तो तब हो गयी जब आरोपित ने एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर छात्र के रिश्तेदारों को जोड़ा और फिर उसपर आपत्तिजनक फोटो व वीडियो अपलोड कर दी। यह पता चलने पर पीड़िता ने खुदकुशी का प्रयास किया। मां के पूछने पर पीड़िता ने आपबीती बयां कर दी। पीड़िता की मां ने पीजीआई थाने में नामजद रिपोर्ट दर्ज करायी है।

पीजीआई में परिवार रहने वाले रेशमा (काल्पनिक नाम) आशियाना स्थित निजी कालेज की छात्रा है। छात्रा के पिता की मौत हो चुकी है। भाई शहर से बाहर रहकर पढ़ाई कर रहा है। मां की मदद करने के इरादे से छात्रा ने मोहल्ले में ब्यूटी पार्लर चलाने वाले रेनू सिंह से सम्पर्क किया था। बातचीत के बाद छात्रा कोर्स सिखने के लिए ब्यूटी पार्लर जाने लगी। घर के करीब होने के चलते मां ने बेटी को इजाजत दे दी। कुछ दिन तो सब कुछ सही रहा। उसके बाद रेनू सिंह का भाई शैलेश सिंह छात्रा से छेड़छाड़ करने लगा। उसने शैलेश की करतूत रेनू सिंह से बतायी तो वे भाई का पक्ष लेने लगी। छात्रा का कहना है कि एक दिन वह पार्लर में काम कर रही थी। इसी बीच शैलेश वहां आया और उसने कोल्ड ड्रिंक दी। ठण्डा पेय पीने के बाद छात्रा बेसुध हो गयी। होश में आने पर शैलेश मोबाइल पर वीडियो बनाता दिखा।

विरोध करने पर आरोपित ने उसके साथ मारपीट की। धमकाया कि अगर शिकायत की तो वीडियो व फोटो सोशल मीडिया पर वॉयरल कर देगा। छात्रा की चुप्पी देख शैलेश की हिम्मत बढ़ गयी। वह अक्सर छात्रा का कालेज आते-जाते पीछा करने लगा। परेशान होकर छात्रा ने कालेज व ब्यूटी पार्लर जाना बंद कर दिया। कई दिन तक घर से बाहर न निकलता देख मां ने बेटी से पूछा तो उसने कुछ नहीं बताया। इसके बाद शैलेश ने उसे धमकी भरा मैसेज भेजा। उसमें लिखा था कि अगर तुम ब्यूटी पार्लर नहीं आयी तो मैं तुम्हें बदनाम कर दूंगा। मैसेज देख वह सहम गयी और आनन-फानन में ब्यूटी पार्लर पहुंची। वहां रेनू ने उसे अपशब्द कहे। उसके बाद रेनू के इशारे पर शैलेश, उसके साथी धीरेन्द्र व एक अन्य ने छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

हैवानियत के दौरान आरोपितों ने मोबाइल पर वीडियो भी बना लिया। सामूहिक दुष्कर्म के दौरान छात्रा की हालत बिगड़ गयी। यह देख रेनू सिंह ने उसे आनन-फानन में घर पहुंचाया। बेटी को बेसुध देख मां ने पूछा लेकिन रेनू बिना कुछ बोले चली गयी। पीड़िता का कहना है कि शैलेश ने कुछ दिन पहले एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया, जिसमें छात्रा के रिश्तेदारों को भी जोड़ लिया। ब्लैक रिबेल के नाम से ग्रुप में युवती की आपत्तिजनक फोटो व वीडियो भेजे गए। शैलेश की हरकत का पता चलने पर छात्रा परेशान हो गयी। उसने खुदकुशी का प्रयास किया लेकिन वक्त रहते घरवालों ने उसे बचा लिया।

मां ने बेटी से पूछा तो वह रोने लगी और फिर आपबीती बयां की। बेटी को लेकर पीजीआई थाने पहुंची मां ने रेनू सिंह, उसके भाई शैलेश व अन्य पर गंभीर आरोप लगाए। पीड़िता की मां का आरोप है कि रेनू सिंह ब्यूटी पार्लर की आड़ में सेक्स रैकेट का धंधा चलाती है। इंस्पेक्टर पीजीआई रवीन्द्र नाथ राय ने बताया कि तहरीर पर रेनू सिंह, शैलेश, धीरेन्द्र व एक अन्य के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म, मारपीट समेत गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है। पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजा गया है। आरोपित द्वारा बनाए गये व्हाट्सएप ग्रुप को भी खंगाला जा रहा है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper